अंडर-19 मुकाबलों के लिए तमिलनाडू की जगह इस राज्य की वकालत करते हुए नज़र आये पूर्व भारतीय कप्तान | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

अंडर-19 मुकाबलों के लिए तमिलनाडू की जगह इस राज्य की वकालत करते हुए नज़र आये पूर्व भारतीय कप्तान 

अंडर-19 मुकाबलों के लिए तमिलनाडू की जगह इस राज्य की वकालत करते हुए नज़र आये पूर्व भारतीय कप्तान

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन ने अगले महीने इंग्लैंड और भारत के बीच खेले जाने वाले अंडर-19 मैचो की मेजबानी को लेकर असमर्थता दिखाई हैं. जिसके बाद पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर का मानना है, कि इन मैचो के स्थान को बदलकर मुंबई को इसकी मेजबानी दी जानी चाहिए.

पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर

यह भी पढ़े : OMG: इसलिए बीसीसीआई का डिनर कार्यक्रम छोड़ कर भागे कैप्टन कूल एमएस धोनी

“मुझे लगता है, कि अगर टीएनसीए भारत और इंग्लैंड के विरुद्ध खेले जाने वाले अंडर 19 मैचों की मेजबानी करने में असक्षम है, ऐसे में मुंबई इन मैचों की मेजबानी कर सकता है, क्योंकि मुंबई में भारत के किसी अन्य शहर से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय आयोजन स्थल हैं.”

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन ने वरदा तूफान से हुए नुकसान और अपने स्वयं के घरेलू क्रिकेट मैचो का हवाला देते हुए कहा है, कि उसके पास अंडर-19 मैचो की मेजबानी के लिए पर्याप्त फिट मैदान नहीं है. जिससे, कि वह चैपोक में एमए चिदंबरम स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ मैचों की मेजबानी कर सके.

भारत के लिए 116 टेस्ट खेलने वाले और क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लार्ड्स के मैदान पर लगातार 3 शतक जड़ने वाले वेंगसरकर का मानना है, कि मुंबई को रिजर्व वेन्यू बनाया जाए जिससे कि किसी कारण से हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन फरवरी में भारत और बांग्लादेश के बीच एकलौता टेस्ट मैच की मेजबानी नहीं कर पाए तो उस मैच आयोजन मुंबई में कराया जा सके.

यह भी पढ़े : आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द इयर का ख़िताब जीतने के बाद वीरेंद्र सहवाग के निशाने पर आए अश्विन

भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज़ ने कहा,

“मुंबई को भारत-बांग्लादेश टेस्ट का बैकअप वेन्यू बनाया जा सकता है, अगर किसी कारण हैदराबाद भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाले टेस्ट की मेजबानी से मना करता है, तो क्रिकेट हमेशा प्राथमिकता होना चाहिए. इन मैचों का कार्यक्रम काफी समय पहले तैयार कर लिया गया था और ऐसे इनकी मेजबानी में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए.”

Related posts