मुंबई टेस्ट : पदार्पण टेस्ट में जेनिंग्स का शतक, इंग्लैंड मजबूत 1

मुंबई, 8 दिसम्बर (आईएएनएस)| पदार्पण मैच में शतकीय पारी खेल कर केटान जेनिंग्स (नाबाद 103) ने इंग्लैंड को वानखेड़े स्टेडियम में भारत के खिलाफ जारी चौथे टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है। मेहमानों ने चायकाल तक 62 ओवरों में दो विकेट खोकर 196 रन बना लिए हैं। जेनिंग्स के साथ मोइन अली 25 रन बनाकर खेल रहे हैं।

पहले सत्र में कप्तान एलिस्टर कुक (46) का विकेट गांवाने वाली इंग्लैंड ने दूसरे सत्र में भी सिर्फ एक विकेट गंवाया। दूसरे सत्र में जोए रूट (21) के रूप में मेजबानों को इकलौती सफलता मिली। उन्हें रविचन्द्रन अश्विन ने 136 के स्कोर पर कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराया।

अली ने इसके बाद युवा जेनिंग्स के साथ पारी को आगे बढ़ाया। दोनों के बीच अभी तक तीसरे विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी हो चुकी है।

जेनिंग्स ने अपनी बेहतरीन पारी में अभी तक 196 गेंदों का समाना किया है और 12 चौके लगाए हैं। इस दौरान मैदानी अंपायर पॉल रफेल को चोट लग गई और उन्हें मैदान के बाहर जाना पड़ा। अश्विन की गेंद पर जेनिंग्स ने स्कावयर लेग पर शॉट खेला और भुवनेश्वर कुमार ने गेंद को थ्रो किया जो रफेल के सिर में जा लगी।

मुंबई टेस्ट : पदार्पण टेस्ट में जेनिंग्स का शतक, इंग्लैंड मजबूत 2

यह भी पढ़े : मुंबई टेस्ट: इंग्लैंड की मजबूत शुरूआत

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे मेहमानों ने दिन के पहले सत्र में कप्तान के रूप में अपना इकलौता विकेट गंवाया। अपने अर्धशतक की ओर बढ़ रहे कुक रवींद्र जडेजा की गेंद पर चकमा खा गए और पार्थिव पटेल ने उन्हें स्टम्प किया। उनका विकेट 25.3 ओवर में 99 के कुल स्कोर पर गिरा।

60 गेंदों में पांच चौके लगाने वाले कुक इस मैच में भारत के खिलाफ टेस्ट मैचों में 2000 से ज्यादा रन बनाने वाले छठे बल्लेबाज बन गए हैं।

जडेजा के विकेट लेने से पहले भारतीय कप्तान ने विकेट लेने के लिए अपने चार गेंदबाजों का इस्तेमाल किया लेकिन कोई भी उन्हें सफलता नहीं दिला पाया। कप्तान ने इसके बाद जडेजा को गेंद थमाई और उन्होंने कप्तान को निराश नहीं किया और अपने पहले ही ओवर में कुक का महत्वपूर्ण विकेट हासिल किया।