/

विश्व क्रिकेट पर बांग्लादेश के इन 2 गेंदबाजो का है खौफ, बल्लेबाजी करते हुए बेबस नजर आते है विराट जैसे दिग्गज

पिछले कुछ सालों में विश्व क्रिकेट की सबसे फिसड्डी टीम बांग्लादेश की क्रिकेट में एक नया बदलाव आया है। ये बदलाव है बांग्लादेश की क्रिकेट टीम से भिड़ने से पहले दूसरी बड़ी टीमों को चौकन्ना रहना। इसका एक सबूत बांग्लादेश ने दिया है इस साल जून में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी में क्वालिफाई कर। चैंपियंस ट्रॉफी में एक तय समय तक विश्व की टॉप-8 टीमों के हिस्सा लेने का नियम है। जिसमें बांग्लादेश ने वेस्टइंडिज टीम को धकेल कर अपने आप को इस टूर्नामेंट का हिस्सा बनाया।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

इस बदली हुई टीम और इस टीम की बदली हुई क्रिकेट में कई नए उभरते हुए खिलाड़ियों का हाथ है। इनमें से एक है तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान और एक है मेहंदी हसन मिर्जा….मैं अब पहले से काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं : मुस्तफिजूर रहमान

इन दोनों बांग्लादेशी खिलाड़ियों को ईएसपीएन क्रिकइंफो अवार्ड दिया गया है। जहां तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान को टी-20 के बॉलिंग ऑफ द ईयर का अवार्ड दिया गया वहीं मेहंदी हसन को बेस्ट डेब्यूटेंट के अवार्ड से सम्मालित किया गया। साथ ही आपको बता दें कि पिछले साल बेस्ट डेब्यूटेंट का अवार्ड मुस्तफिजुर को दिया गया था।विराट ने बताया बांग्लादेश के खिलाफ जीत के बाद कहा लगा हुआ है उनका दिल और दिमाग

मुस्तफिजुर को ये अवार्ड भारत में हुए टी-20 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार गेंदबाजी के लिए दिया गया जहां वो चोट से उबरकर वापसी कर रहे थे। एस मैच में रहमान ने  22 रन देकर 5 कीवी बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाई थी। इस परफॉरमेंस के साथ  ही उन्होनें भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी शानदार गेंदबाजी की थी।अब बांग्लादेश में जल्द देखने को मिलेगा क्रिकेट का महा मुकाबला

वहीं मेहंदी हसन को अपने पदार्पण मैच में शानदार गेंदबाजी को लेकर बेस्ट डेब्यूटेंट का अवार्ड दिया गया। बांग्लादेश के इस उभरते हुए स्पिन गेंदबाज ने पिछले साल अपनी घरेलु जमीं पर इंग्लैंड के खिलाफ हुई टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट मैच में 12 विकेट झटके। इनमें से मेहंदी ने पहली पारी में 7 और दूसरी पारी में 5 विकेट लेकर पहली बार इंग्लैंड जैसी शक्तिशाली टीम को घूटने टेक पर मजबूर कर दिया था।