पाकिस्तान के खिलाफ क्वाटर फाइनल में खेली गयी पारी मेरी अब तक की सबसे महत्वपूर्ण पारी है: वॉटसन

ऑस्ट्रेलियाई ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन ने आज कहा, कि विश्व कप क्वार्टर फाइनल मेंपाकिस्तान के खिलाफ 64 रन की नाबाद पारी उनके वनडे कैरियर की सबसेमहत्वपूर्ण पारी है और उन्होंने मीडिया से बातचीत में ये भी बात जश्न में कही की वह अपने आपको बहूत खुशकिस्मत मानते है, कि वहाब रियाज की खतरनाक गेंदबाजीके सामने वह बिलकुल भी घबराये नहीं, बल्कि हौसले के साथ टिके रहे.  

वॉटसनदो बार ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा रह चुके हैं, और उन्होंने कहा कि “मुझे इतनी ज्यादा ख़ुशी है, कि मुझे ऐसा लग रहा है, जैसे मैंने दूसरा जन्म लिया हो, आप इसे इस तरह भी सोच सकते है, कि जब एक माँ बाप को बच्चा होता है, तो वो भी एक अलग ख़ुशी होती है, इसी तरह की ख़ुशी मेरी जिंदगी में आई.

हालाँकि उन्होंने कहा ,‘‘ अभी मेरा कोई भी दूसरा बच्चा नहीं हुआ है लेकिन यह ख़ुशी का एहसास उसी तरह का है. जैसे पहली बारवेस्टइंडीज में जो जीत मिली थी वो बहूत खास थी, मेरी किस्मत इतनी अच्छी है, कि वह समय में पैदा हुआ कि अपनी धरतीपर विश्व कप खेल सका.और अपने देश के काम भी आया.”

 

उन्होंनेटीम के तेज गेंदबाजों की तारीफ के पुल बांधे और साथ ही में ये भी कहा, कि

“खिलाडियों ने बहूत बेहतरीन प्रदर्शन किया है, जिन्होंने पूरे टूर्नामेंट में उम्दाप्रदर्शन किया. वैसे तो गेंदबाजी आक्रमणभी अच्छा था, लेकिन जिस तरह से इन गेंदबाजों ने आपसी रणनीति पर पूरी तरह से विश्वास करके खेला है वह सराहनीय है.’’ 

उन्होंने प्लेयर आफ द टूर्नामेंट रहे मिशेल स्टार्क की खास तौर पर तारीफ की.उन्होंने कहा ,‘‘ये बात सही है, कि स्टार्क की खास ताकत रफ्तार और स्विंग है. उसने दुनिया भर के बल्लेबाजों को अपनी वैरिएशन से परेशान किया है.” 

जब मीडिया ने अपने रिपोर्ट के लिए ये पूछा की क्या आईपीएल के पहले चरण में उन्हें ब्रेक की जरूरत पड सकती है, या वो लेना चाहते है है, उन्होंने अपने जवाब में कहा ,‘‘ नहीं , मैं ठीक हूं. मैं पूरी तरह से स्वस्थ भी हु और ये तो कुछ भी नहीं बल्कि हमने विश्व कप में छह सप्ताह मेंसिर्फ नौ मैच खेले हैं जबकि आम तौर की मैच में हम तीन सप्ताह में नौ मैच खेलतेहैं.’’

 

 

Related Topics