इस दिन होने भारतीय गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के नामों की घोषणा

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इस दिन होगा भारतीय गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के नामों की घोषणा, इनका दावा सबसे मजबूत 

इस दिन होगा भारतीय गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के नामों की घोषणा, इनका दावा सबसे मजबूत

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री को उनके पद पर बरकरार रखा गया है। वहीं अन्य सपोर्ट स्टाफ का चयन होना अभी बाकी है। इसमें बल्लेबाजी कोच, गेंदबाजी कोच और फील्डिंग कोच के पद सबसे महत्वपूर्ण हैं। इन पदों के लिए मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद और उनके साथी चयनकर्ता इंटरव्यू लेंगे।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

गुरुवार को घोषणा

कोच

भारतीय टीम के सपोर्ट स्टाफ के नामों की घोषणा गुरुवार को होगी। प्रक्रिया की शुरुआत आज से ही हो जाएगी और गुरुवार सभी नामों की घोषणा एक साथ हो सकती है। इस बारे में बीसीसीआई के अधिकारी ने आईएएनएस से कहा

“प्रक्रिया आज शुरू होती है और गुरुवार तक जारी रहेगी। पूरी प्रक्रिया पूरी होने के बाद उम्मीदवारों की घोषणा गुरुवार को की जाएगी। एक समय में एक नाम की घोषणा करने का कोई मतलब नहीं है।”

गेंदबाजी कोच में इनका दावा मजबूत

इस दिन होगा भारतीय गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के नामों की घोषणा, इनका दावा सबसे मजबूत 1

भारतीय टीम के नई गेंदबाजी कोच कोच के लिए भरत अरुण का दावा काफी मजबूत है और वह दोबारा कोच बनाए जाने के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। उनके कोच रहते भारतीय टीम के गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

भारतीय गेंदबाजी ने पिछले कुछ सालों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। टीम ने गेंदबाजी की बदौलत ही ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज अपने नाम किया था वहीं इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में हार के बावजूद टीम के गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया था।

इनकी जगह पर खतरा

इस दिन होगा भारतीय गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के नामों की घोषणा, इनका दावा सबसे मजबूत 2

बल्लेबाजी कोच संजय बांगर की जगह पर सबसे ज्यादा खतरा बताया जा रहा है। विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में एमएस धोनी के नबंर 7 पर आने का फैसला भी संजय बांगर का ही बताया जा रहा है और इन्हीं वजहों से उनकी जगह को खतरा है।

फील्डिंग में भी भारतीय टीम के लगातार बेहतर किया है और आर श्रीधर का टीम के साथ अच्छा काम किया है। हालांकि, जोंटी रोड्स के आवेदन के बाद बीसीसीआई की परेशानी बढ़ गई है। फील्डिंग कोच के चयन में ही एमएसके प्रसाद और उनके साथी को सबसे ज्यादा माथापच्ची करनी पड़ सकती है।

Related posts