नसीम शाह अंडर-19 में हो सकते हैं पाकिस्तान टीम के मुख्य हथियार

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

पाकिस्तान की अंडर-19 टीम के लिए ट्रेनिंग कैंप से जुड़ेंगे नसीम शाह 

पाकिस्तान की अंडर-19 टीम के लिए ट्रेनिंग कैंप से जुड़ेंगे नसीम शाह

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के युवा तेज गेंदबाज नसीम शाह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कई कारणों के लिए चर्चा का विषय रहे. उनकी तेज गेंदबाजी ने एक तरफ सभी को हैरान किया तो वहीं उनकी उम्र को लेकर काफी चर्चा हुई. मगर अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड चाहता है कि तेज गेंदबाज नसीम शाह 2020 में होने वाले अंडर-19 विश्व कप में टीम में हिस्सा बने और टीम के साथ जुड़कर ट्रेनिंग लें.

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर डेब्यू कर रच दिया इतिहास

नसीम शाह

मात्र 16 साल की उम्र में अपनी तेज गेंदबाजी से नसीम शाह ने हर किसी को हैरान कर दिया. युवा खिलाड़ी भले ही ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एक ही विकेट ले सके लेकिन उनकी अच्छी लाइन-लैंथ ने हर किसी को अपनी ओर आकर्षित किया. 16 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट खेलने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए.

इस बीच, अंडर-19 टीम के लिए ट्रेनिंग कैंप लाहौर में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में आयोजित किया गया है. ये ट्रेनिंग कैंप 6 हफ्ते के लिए आयोजित किया जाएगा. कथित तौर पर, वे खिलाड़ी इस कैंप का हिस्सा होंगे जो वर्तमान में अन्य टीमों से दूर हैं, अपनी कमिटमेंट्स को पूरा करने के बाद फिर से जुड़ेंगे. इस बीच, मिस्बाह-उल-हक ने भी युवा तेज गेंदबाज नसीम शाह को सीनियर टीम से रिलीज करने के लिए हरी झंडी दे दी है.

नसीम शाह होंगे हमारे मुख्य हथियार

पाकिस्तान की अंडर-19 टीम के लिए ट्रेनिंग कैंप से जुड़ेंगे नसीम शाह 1

अंडर-19 विश्व कप के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अब खिलाड़ियों पर काम करना शुरु कर चुका है. इसी बीच जूनियर टीम के मुख्य कोच ने कहा,

पाकिस्तान अंडर -19 टीम के मुख्य कोच एजाज़ अहमद ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो को बताया,

“वह मेरा मुख्य हथियार है और मुझे विश्व कप में उसकी ज़रूरत है. अब उनके पास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का एक्सपीरियंस भी है और अब, श्रीलंका के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में, पाकिस्तान के पास मोहम्मद अब्बास और शाहीन अफरीदी टीम की तेज गेंदबाजी इकाई की नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं.

बताते चलें, आगामी अंडर-19 विश्व कप सेट जनवरी-फरवरी में खेला जाएगा. नसीम शाह ने अब तक केवल 7 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर युवा गेदंबाज ने बेहतरीन गेंदबाजी की और वह विस्फोटक बल्लेबाज डेविड वॉर्नर का विकेट लेने से चूक गए क्योंकि उनका पैर बाउंड्री के आगे चला गया था.

Related posts