एनसीए को जल्द मिलेगा सोशल मीडिया स्पेशलिस्ट और मेडिकल पैनल

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भुवनेश्वर कुमार के चोट ने खोली थी NCA की पोल अब जल्द होंगे ये 2 बदलाव 

भुवनेश्वर कुमार के चोट ने खोली थी NCA की पोल अब जल्द होंगे ये 2 बदलाव

भारतीय क्रिकेट टीम में इंजर्ड होने के बाद खिलाड़ी राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) में जाकर अपनी फिटनेस पर काम करके रिकवरी करते हैं. लेकिन पिछले कुछ वक्त से लगातार एनसीए से खिलाड़ियों की सेहत के साथ लापरवाही की खबरें सामने आ रही हैं जिसके चलते बीसीसीआई ने कहा है कि मेडिकल पैनल की मदद मिलेगी. साथ ही एनसीए में सोशल मीडिया विभाग भी बनाया जाएगा.

एनसीए को मिलेगा बीसीसीआई मेडिकल पैनल

भुवनेश्वर कुमार

भारतीय क्रिकेट टीम के कई खिलाड़ियों ने हाल ही में एनसीए जाने से इनकार कर दिया. एनसीए की हालिया बैठक में मेडिकल पैनल की जरूरत पर चर्चा की गई, जिसमें अध्यक्ष सौरभ गांगुली और एनसीए क्रिकेट प्रमुख राहुल द्रविड़ सहित बीसीसीआई के अधिकारियों ने शिरकत की थी.

मीटिंग के बाद बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि, बीसीसीआई अपना मेडिकल पैनल बनाने के लिए लंदन में स्थित क्लिनिक ‘फोरटियस’ की सलाह लेगा. लंबे समय से खाली ‘तेज गेंदबाज प्रमुख’ पद पर जल्द ही नियुक्ति की जाएगी जिस पर एनसीए में तेज गेंदबाजी कार्यक्रम गठित करने की जिम्मेदारी होगी.

भुवनेश्वर की इंजरी ने खोले एनसीए के राज

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार वेस्टइंडीज दौरे में इंजर्ड होकर एनसीए पहुंचे थे. लंबे वक्त तक वहां अपनी फिटनेस पर काम करने के बाद जब एनसीए ने भुवी को फिटनेस की क्लीन चिट दी थी तभी उन्होंने टीम में वापसी की.

लेकिन 2 टी20 मैच खेलने के बाद उन्हें अपने स्ट्रेच फ्रैक्चर की समस्या शुरु हो गई इसलिए चेन्नई टी20 से पहले भुवी को फिर टीम से बाहर होना पड़ा. इसके बाद से ही एनसीए में खिलाड़ियों के साथ हो रही लापरवाही की खबरों पर एक बार फिर सभी का ध्यान केंद्रित हुआ.

हार्दिक पांड्या-जसप्रीत बुमराह ने एनसीए जाने से किया था इनकार

भुवनेश्वर कुमार के चोट ने खोली थी NCA की पोल अब जल्द होंगे ये 2 बदलाव 1

भुवनेश्वर कुमार के इंजरी के दौरान सामने आया था कि जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या ने एनसीए जाने से इनकार  कर दिया था. हालांकि अब दोनों ही खिलाड़ी फिट होकर टीम में वापसी करने के लिए तैयार हैं. आपको बता दें, ऋद्धिमान साहा की इंजरी के साथ भी एनसीए में लापरवाही बरती गई थी जिसके चलते उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था.

Related posts