WTC फाइनल- न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन के बाहर होने पर न्यूजीलैंड को कितना हो सकता है नुकसान 1

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में पहली बार खेली जाने वाले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल को लेकर दोनों ही टीमें पूरी तरह से कमर कस चुकी हैं। भारत और न्यूजीलैंड की टीमें जब 18 जून से 22 जून के बीच खेले जाने वाले फाइनल मैच में आमने-सामने होंगी तो खिताबी जीत पर ही नजरें रहेंगी।

इंग्लैंड में न्यूजीलैंड को टेस्ट सीरीज खेलना ना पड़ जाए भारी

इंग्लैंड की सरजमीं पर होने वाले इस मैच में भारत और न्यूजीलैंड दोनों को ही घरेलू कंडिशन का फायदा नहीं मिल पाएगा। ऐसे में इस न्यूट्रल मैदान में खेलने से पहले वहां के माहौल में ढलने के लिए काफी तैयारी के साथ इंग्लैंड पहुंची हैं।

केन विलियमसन

एक तरफ जहां न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड पहुंचने के बाद मेजबान टीम से 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेल रही है, तो वहीं भारतीय टीम इंग्लैंड तो पहुंच चुकी हैं, लेकिन उन्हें बिना किसी मैच के सीधे फाइनल मैच में उतरना है।

लॉर्ड्स में केन विलियम्सन चोटिल, दूसरे टेस्ट से बाहर

इसी को देखते हुए कई दिग्गज खिलाड़ियों ने न्यूजीलैंड का पलड़ा ज्यादा भारी तो माना है, लेकिन ये टेस्ट सीरीज खेलना न्यूजीलैंड को भारी भी पड़ सकता है, क्योंकि पहले टेस्ट मैच में कीवी टीम ने अपने कप्तान केन विलियम्सन को चोट के कारण इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से खो दिया है।

WTC फाइनल- न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन के बाहर होने पर न्यूजीलैंड को कितना हो सकता है नुकसान 2

केन विलियम्सन को अपने बांयी कोहनी में चोट लग गई है। जिसके बाद उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में नहीं खेलने का फैसला किया है, क्योंकि वो टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अपने आपको फिट रखना चाहते हैं।

फाइनल से पहले केन नहीं हो पाते फिट तो होगा बड़ा नुकसान

भले ही इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से तो केन विलियम्सन ने फाइनल मैच को देखते हुए नहीं खेलने का फैसला किया है लेकिन अगर केन विलियम्सन फाइनल मैच से पहले फिट नहीं हो पाते हैं तो ये न्यूजीलैंड के लिए काफी बड़ा झटका होगा।

WTC फाइनल- न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन के बाहर होने पर न्यूजीलैंड को कितना हो सकता है नुकसान 3

न्यूजीलैंड के लिए केन विलियम्सन का फाइनल मैच में ना खेलने से केवल एक बल्लेबाज ही नहीं बल्कि एक कप्तान के रूप में भी भारी कमी खलेगी। केन पिछले कुछ साल से एक बल्लेबाज और कप्तान के रूप में काफी कामयाब रहे हैं, ऐसे में कहीं ना कहीं न्यूजीलैंड के लिए केन का फाइनल से पहले फिट होने काफी जरूरी बन जाता है।

एक बल्लेबाज और कप्तान के रूप में केन हैं कमाल

केन विलियम्सन ने न्यूजीलैंड के लिए बतौर कप्तान कमान साल 2016 से संभाली है। उसके बाद से उन्होंने शानदार कामयाबी दिलायी है। उन्होंने इस दौरान न्यूजीलैंड को 36 में से 21 टेस्ट मैचों में जीत दिलायी है, तो केवल 8 टेस्ट मैचों में कीवी टीम को हार मिली है। भारत के खिलाफ 4 टेस्ट में 2 में जीत और 2 में हार मिली है।

WTC फाइनल- न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन के बाहर होने पर न्यूजीलैंड को कितना हो सकता है नुकसान 4

वहीं बल्लेबाज के रूप में देखे तो केन विलियम्सन मौजूदा समय में किस तरह के बल्लेबाज हैं ये किसी को बताने की जरूरत नहीं बनती है। उन्होंने एक प्रभावशाली टेस्ट बल्लेबाज के रूप में अपने आपको साबित किया है, तभी तो वो आज टेस्ट के नंबर वन बल्लेबाज हैं, साथ ही भारत के स्पिन गेंदबाजों को खेलने में काफी सक्षम हैं, ऐसे में केन के नहीं होने से कीवी टीम की उम्मीदें भी काफी कम रह जाएंगी।