बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी, ये वो नाम हैं जिनके बारे में जितनी बात की जाए कम होंगी. महेंद्र सिंह धोनी जितना दमदार नाम उतनी ही बड़ी शख्सियत. भारतीय क्रिकेट जगत के लिए महेंद्र सिंह धोनी ने जो कुछ किया, वह वाकई में अविस्मरणीय हैं. साल 2014 में मेलबर्न टेस्ट में भारतीय टीम के लिए मैच बचाने के लिए खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी ने बेहद ही सदी हुई नाबाद 24 रनों की पारी खेली और मैच ड्रा कराया. मैच के तुरंत बाद ही धोनी ने सभी को चौकाते हुए, आनन-फानन में टेस्ट क्रिकेट से सन्यास लेकर सभी को हैरानी में डाल दिया. बुधवार, 5 जनवरी को भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला, जब देश के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अचानक से ही एकदिवसीय और टी ट्वेंटी क्रिकेट टीम की कप्तानी से इस्तीफा देकर सभी को फिर से एक बार अपने हैरानी भरे फैसले से चौंका दिया.

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 1

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 2

यह भी पढ़े : कप्तान बनते ही धोनी के विचारों के खिलाफ बोले कोहली

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में देश ने एक नहीं, बल्कि दो दो विश्व कप के ख़िताब जीतें. यही नहीं साल 2013 इंग्लैंड में आयोजित चैंपियन ट्राफी में भी धोनी ने अपनी शानदार कप्तानी के दम पर देश को एक और ख़िताब जीताया. अक्सर यह सवाल मीडिया और क्रिकेट के दिग्गजों द्वारा उठाया गया, कि धोनी अपनी कप्तानी के कारण अपनी बल्लेबाज़ी पर ध्यान नहीं दे पा रहे हैं. यह सवाल किसी न किसी हद तक सच भी था.

जब साल 2007 में महेंद्र सिंह धोनी को देश का कप्तान बनाया गया तो, उसके बाद से ही उनकी कप्तानी का असर उनकी बल्लेबाज़ी पर साफ़ देखने को मिला. कप्तान बनाने से पहले धोनी खुल कर बल्लेबाज़ी करते थे, लेकिन कप्तान बनते ही उनका स्ट्राइक रेट और खेल की औसत गिरना शुरू हो गई.

यह भी पढ़े : मेनचेस्टर यूनाइटेड ने भी महेंद्र सिंह धोनी को उनके शानदार सफर पर बधाई

अब जब महेंद्र सिंह धोनी ने अपने कप्तानी पद से इस्तीफा दे दिया हैं, तो सभी को इस बात की पूरी उम्मीद हैं, कि धोनी अब एक बार फिर से खुल कर बिना किसी दबाव के खेलते हुए दिखाई देंगे. यही नहीं हमारे देश के नये कप्तान विराट कोहली ने भी टीम का नया कप्तान बनते ही, यह बात साफ़ कर दी हैं, कि वो अपनी कप्तानी के दौरान महेंद्र सिंह धोनी को ऊपर बल्लेबाज़ी करते हुए देखना चाहते है.

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 3विराट कोहली के अनुसार-

यह भी पढ़े : तो इस खिलाड़ी से प्रेरणा लेते है भारतीय टीम के टेस्ट कप्तान विराट कोहली

”मैं चाहते हूँ, कि धोनी भाई एक बार फिर से उसी अंदाज़ में खेले जैसा, कि वो पहले खेला करते थे. यही नहीं मैं दिल से ऐसा चाहता हूँ, कि धोनी भाई मेरी कप्तानी के दौरान नंबर चार या उससे भी ऊपर खेले.”

हम सब भी पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को खुल कर और जमकर बल्लेबाज़ी करते हुए देखना चाहते हैं. महेंद्र सिंह धोनी के वनडे क्रिकेट के आंकड़े भी इसी बात पर मुहर लगाते हैं, कि धोनी का खेल ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करते हुए सबसे बेस्ट हैं.

महेंद्र सिंह धोनी का एकदिवसीय करियर भी यही कहता हैं. नंबर चार पांच से पहले खेलते हुए, धोनी के आंकड़े भी लाजवाब रहे.

यह भी पढ़े : भारतीय टीम के नये कप्तान विराट कोहली से बातचीत करने के लिए बेताब है इंग्लैंड का यह खिलाड़ी

यहाँ देखें महेंद्र सिंह धोनी के ऊपर बल्लेबाज़ी करते हुए, लाजवाब आंकड़े-

बल्लेबाज़ी क्रमपारीनाबाद 100s50s0sसर्वोच्चरनऔसतस्ट्राइक रेट कैचस्टंप
ओपनिंग20010969849.0086.7320
3164261183*99382.7599.70138
42651111109*122358.2494.812713
559153121124232052.7388.086113

 

ऐसा नहीं हैं, कि कप्तान बनाने के बाद धोनी ने रन ही नहीं बनाये. आपको बता दे, कि एकदिवसीय क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने वाले विश्व क्रिकेट के दूसरे बल्लेबाज़ हैं, लेकिन यह भी एक कटुसत्य हैं, कि धोनी ने देश हित को देखते हुए खुद को बल्लेबाज़ी क्रम में निचे प्रोमोट करते थे, ताकि युवा खिलाड़ी अच्छा कर सके. बतौर कप्तान धोनी को ज्यादातार छटे या सातवें क्रम पर ही खेलते दिखाई देते थे.

यह भी पढ़े : सही समय पर धोनी ने लिया निर्णय : वीवीएस लक्षमण

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 4आज पूरा क्रिकेट जगत महेंद्र सिंह धोनी को ऊपर बल्लेबाज़ी करते हुए देखना चाहता हैं. अब लोगो के जहन में फिर से एक बार उसी धोनी की छवि उमड़ पड़ी हैं, जैसी कि उनके डेब्यू के दौरान हुआ करती थी.

जब महेंद्र सिंह धोनी ने अपना एकदिवसीय करियर शुरू किया था, तब एकदम खुलकर और बिना किसी दबाव के मैदान पर जमकर रनों की बरसात करते थे. धोनी मैदान पर उतरते ही चौके और लम्बे लम्बे छक्कों से सभी का दिल जीत लेते थे. उनके लम्बे-लम्बे छक्कों के अलावा उनके लम्बे लम्बे बालों की दुनिया दीवानी हो गयी थी. विश्व क्रिकेट में धोनी के गगनचुंबी और आसमानी छक्कों को देखकर पूरा स्टेडियम जोरदार तालियों से गूंज उठता था.

यह भी पढ़े : मैं शार्प शूटर नहीं हूं मेरा नाम मोहम्मद कैफ है, जानिए क्‍यों कहा ऐसा इस खिलाड़ी ने

जयपुर में श्रीलंका के विरुद्ध तीसरे वनडे मैच में उनके द्वारा खेली गयी, नाबाद 183 रनों की पारी से विश्व क्रिकेट मानो धोनी के धामकों से हील सा गया था. इस मैच के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने अद्भुत और आकर्षक 10 छक्कें लगाये थे.

बतौर खिलाड़ी कुछ इस तरह खेलते नज़र आयेंगे, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 5यही नहीं विशाखापत्तनम में पाकिस्तान के विरुद्ध उनका पहला शतक तो शायद ही कोई भुला पाए, उस मैच में धोनी ने तेज गेंदबाजों से सजी पाकिस्तानी टीम के खिलाफ तीसरे क्रम पर अपने बल्ले का जौहर दिखाते हुए, शानदार 148 रनों की पारी खेली थी और सबसे पहले क्रिकेट जगत में सुर्ख़ियों में आये थे.

यह भी पढ़े : मोहम्मद कैफ ने धोनी के एकदिवसीय पदार्पण मैच में पहली बॉल पर रनआउट होने के कारण का खुलासा किया

अब देखने वाली बात यह होगी, कि क्या महेंद्र सिंह धोनी फिर से एक बार उसी अंदाज़ में खेलते हुए नज़र आयेंगे जैसा, कि वो पहले खेला करते थे.

Related posts