निदहास ट्राफी: गलती से नहीं बल्कि जानबूझकर नुवान प्रदीप ने कराई थी मनीष पाण्डेय को तौलिये के साथ गेंद, जाने क्यों

vineetarya / 14 March 2018

भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच निदहास ट्राई सीरीज का चौथा मैच 12 मार्च सोमवार को खेला गया था. इस मैच को भारतीय टीम ने अपने शानदार प्रदर्शन के चलते 6 विकेट से जीत लिया था.

भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच हुए इस मैच के दौरान भारत की पारी के सातवें ओवर में एक बहुत ही अजीबोगरीब घटना देखने को मिली थी.

नुवान प्रदीप ने तौलिये के साथ कराई गेंद 

दरअसल, जब भारतीय टीम की पारी का 7वां ओवर श्रीलंका के तेज गेंदबाज नुवान प्रदीप ला रहे थे, तो इस समय स्ट्राइक पर मनीष पाण्डेय थे. नुवान प्रदीप ने जब अपने इस ओवर की एक गेंद मनीष पाण्डेय को कराई तो उन्होंने गेंद के साथ अपनी कमर में रखे तौलिये को भी लपेट के फेंक दिया था.

बॉल के साथ तौलिये को आता देख मनीष पाण्डेय का ध्यान जरुर भटका और उन्होंने जैसे-तैसे उस गेंद को खेला. हालाँकि, तौलिये को देख मनीष पाण्डेय क्रोधित जरुर हुए और उन्होंने अंपायर से भी गेंदबाज की इस हरकत की शिकायत की.

प्रदीप ने पाण्डेय का ध्यान भटकाने के लिए किया था तौलिये का इस्तेमाल  

जब यह तौलिये वाला वाकया घटा तो देखने में तो ऐसा लग रहा था, कि जैसे नुवान प्रदीप द्वारा गेंद के साथ तौलिया गलती से चला गया, लेकिन यह नुवान प्रदीप की योजना का हिस्सा था और उन्होंने ऐसा मनीष पाण्डेय का ध्यान भटकाने के लिए किया था.

गेंदबाज अपनी इस ट्रिक के जरिये बल्लेबाज का ध्यान भटकाता है. इस ट्रिक का इस्तेमाल करने से गेंदबाज को यह फायदा होता है कि बल्लेबाज को गेंद की सही दिशा और लम्बाई का अंदाजा नहीं हो पाता है और कई बार बल्लेबाज ध्यान भटकने के चलते आउट हो जाते है और कल के मैच में यही योजना नुवान प्रदीप ने मनीष पाण्डेय के खिलाफ इस्तेमाल की.

तौलिये वाली गेंद को लीगल करार दिया गया 

इस पूरी घटना में हैरानी की बात यह थी कि इस गेंद को अंपायर ने लीगल करार दिया और अंपायर ने तौलिये के संग की गई इस गेंद के लिए नुवान प्रदीप को भी कुछ नहीं बोला. हालाँकि मनीष पाण्डेय ने इशारा कर अपनी नाराजगी जरुर व्यक्त की थी. तौलिये वाली इस गेंद पर मनीष पाण्डेय ने एक रन हासिल किया था.

मनीष पाण्डेय ने नाबाद 42 रन बनाकर दिलाई थी भारत को जीत 

भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच निदहास ट्राई सीरीज का जो 12 मार्च सोमवार को चौथा मैच खेला गया उसे भारतीय टीम ने सिर्फ और सिर्फ मनीष पाण्डेय के दम पर ही जीता था.

जब भारतीय टीम के शीर्षक्रम के चार बल्लेबाज मात्र 83 रन के स्कोर पर आउट हो गये थे तब मनीष पांडेय ने जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करते हुए दिनेश कार्तिक के साथ मिलकर शानदार 68 रन की नाबाद साझेदारी निभाई और भारतीय टीम को 6 विकेट से जीत दिलाई.

मनीष पांडेय ने आज 31 गेंदों पर 42 रन की शानदार पारी खेली और अपनी पारी के दौरान 3 चौके और एक छक्का लगाया.