न्यूजीलैंड

आईपीएल 2021 के बाकी 31 मैचों का आयोजन सितंबर में आयोजित कराए जाने की बात कही जा रही है. बीसीसीआई (BCCI) भी नुकसान की भरपाई के लिए आईपीएल 2021 के बचे हुए मैचों को कराने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहा है. लेकिन, इसी बीच एक बड़ी खबर निकलकर आ रही है.

जानकारी के मुताबिक अब इंग्लैंड के खिलाड़ियों के बाद इस देश के खिलाड़ी भी आईपीएल से दूरी बनाने को लेकर सोच रहे हैं. इसी के साथ इस फ़ेहरिस्त में अक और देश के खिलाड़ियों का नाम देख कर आईपीएल फ़्रेंचाइज़ियों को बड़ा झटका लगा है. इसी सिलसिले में इस आर्टिकल में हम बात करेंगे उस देश के खिलाड़ियों के बारे में जो आईपीएल के बचे हिस्से से दूर रहने का मन बना चुके हैं.

आईपीएल से खुद को अलग कर सकते हैं न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ी

न्यूजीलैंड

गौरतबल है कि न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीम को सितंबर में पाकिस्तान का दौरा करना है. जहां उसे तीन वनडे मैच और पांच टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है. एक निजी क्रिकेट वेबसाइट की खबर के मुताबिक अगर आईपीएल के बचे हुए मैचों का आयोजन सितंबर में होता है तो न्यूजीलैंड के खिलाड़ी इस लीग का हिस्सा नहीं होंगे.

ट्रेंड बोल्ट और केन विलियमसन समेत कई न्यूजीलैंड के खिलाड़ी आईपीएल में अलग-अलग टीमों से खेलते हैं. अगर कीवी खिलाड़ी खुद को आईपीएल से अलग करते हैं तो ये फ्रेंचाइजियों के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं होगा.सबसे तगड़ा झटका सनराइजर्स हैदराबाद को लग सकता है क्योंकी टीम की कमान सीनियर कीवी कप्तान केन विलियमसन के ही हाथों में है.

सितंबर में ही कराया जा सकता है आईपीएल

न्यूजीलैंड

सितंबर के महीने में ही आईपीएल के मैचों के लिए विंडो खाली है क्योंकि उसके बाद टी-20 विश्वकप का आयोजन होना है. साथ ही सभी टीमों का अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर भी काफी बिज़ी होगा जिसके चलते आईपीएल के बचे हुए मैचों को कराना बिल्कुल संभव नहीं होगा.

हालांकि अभी तक न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की तरफ से इस विषय पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन इतना तो साफ है कि अगर न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों ने पाकिस्तान दौरे को प्राथमिकता दी तो उनके आईपीएल में खेलने की संभावना ना के बराबर रहेगी.

अभी तय नहीं है कि कहां होंगे आईपीएल के बचे मैच

न्यूजीलैंड

आईपीएल के बचे मैचों का आयोजन कहां होगा ये अभी तय नहीं है. यूएई के अलावा इंग्लैंड में भी आईपीएल के बाकी मैचों को आयोजित करने की बात कही जा रही हैं. इसके अलावा श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया में भी आईपीएल के मैचों के आयोजित होने की सुगबुगाहट है. जिसके बाद अब इस मसले पर फैसला अब  बीसीसीआई   (BCCI) को करना है.

गौरतलब है कि आईपीएल 2021 के शुरूआती मैचों का आयोजन बेहद ही सफल तरीके से हुआ था लेकिन बाद में कुछ टीम के खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के चलते इसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था. बायो बबल में रहने के बावजूद खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर बीसीसीआई (BCCI) के ऊपर काफी सवाल उठे थे.