सर डॉन ब्रैडमैन आज ही के दिन दुनिया को कहा था अलविदा, सिंगिंग में भी दिखाया दम

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ON THIS DAY: आज का दिन क्रिकेट जगत के लिए है मनहूस, आज ही के दिन इस दिग्गज खिलाड़ी ने किया था दुनिया को अलविदा 

ON THIS DAY: आज का दिन क्रिकेट जगत के लिए है मनहूस, आज ही के दिन इस दिग्गज खिलाड़ी ने किया था दुनिया को अलविदा

क्रिकेट जगत में आज एक ऐसा दिन है जब क्रिकेट के डॉन के नाम से मशहूर सर डॉन ब्रेडमैन ने दुनिया को अलविदा कहा था. जी हां, ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज खिलाड़ियों में से एक सर डॉन ब्रेडमैन ने आज ही के दिन दुनिया को अलविदा कहा था.

द डॉन का जन्म ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स में 27 अगस्त 1908 में हुआ था. ब्रेडमैन के नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है, जो आज तक एक पहेली बना हुआ है. आइये आपको डॉन के करियर के कुछ ख़ास क्रिकेट रिकॉर्ड के बारे में बताते हैं जिसको तोड़ पाना बेहद मुश्किल है. 

 

द डॉन के नाम से मशहुर ब्रैडमैन

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

27 अगस्त 1908 को न्यू साउथ वेल्स में जन्मे द डॉन यानी सर डॉन ब्रैडमैन ऑस्ट्रेलिया के शबे दिग्गज खिलाड़ियों में से एक थे. डॉन के क्रिकेट करियर में कई ऐसे रिकॉर्ड शामिल हैं जिनको तोड़ पाना आज किसी भी खिलाड़ी के लिए बेहद मुश्किल है.

92 वर्ष की उम्र में दुनिया को अलविदा कहने वाले डॉन ब्रैडमैन ने अपना आखिरी टेस्ट मैच ओवल में 14 अगस्त 1948 में खेला था. ब्रैडमैन को द डॉन के नाम भी जाना जाता था. डॉन ने अपने करियर में कुल 52 टेस्ट मैच खेले हैं. जिसमे उनके नाम कई बेहतरीन रिकॉर्ड दर्ज हैं.

टेस्ट मैच में रचा ऐसा रिकॉर्ड जो आजतक बना हुआ है पहेली 

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

डॉन ने अपने टेस्ट में कुल 52 मैच खेले हैं, जिनमे उनके बल्ले से 29 शतक 99.94 की औसत से 6996 रन बनाये हैं. जिनमे 12 दोहरे शत्ज्क भी शामिल हैं.

ब्रैडमैन का यह ऐसा रिकॉर्ड है, जो क्रिकेट जगत में आजतक एक पहेली बना हुआ है. जबकि 234 प्रथम श्रेणी मैचों में 117 शतक के साथ 28067 रन बनाये हैं. इस पुरे क्रिकट सफ़र में ब्रैडमैन का उच्चतम स्कोर 452 नाबाद रहा है.

पिता थे किसान बेटा बना दुनिया का दिग्गज खिलाड़ी 

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

क्रिकेट जगत के दिग्गज खिलाड़ी सर ब्रैडमैन के पिता एक किसान थे और उनकी आर्थिक स्थिति उतनी अच्छी नहीं थी. लेकिन इसके बावजूद भी ब्रैडमैन ने अपने क्रिकेट के जूनून को बनाये रखा और वह एक शानदार खिलाड़ी बनकर उभरे.

बता दें कि सर ब्रैडमैन ने 10 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था और उस दौरान वह गोल्फ की बॉल से मैच की प्रैक्टिस किया करते थे.

ब्रैडमैन गोल्फ की बॉल को इस हिसाब से दिवार पर मारते थे, कि वह वापस निचे ही नहीं आती. हालांकि कुछ समय बाद ब्रैडमैन ने सीमेंटेड पिच पर मैच का प्रेक्टिस करना शुरू कर दिया.

ऑस्ट्रेलियन बोर्ड ने पुरे शहर में 9994 को बनाया ख़ास नंबर

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

इस बात की जानकरी बेहद ही कम लोगों के पास ही होगी, कि ऑस्ट्रेलियन कॉपोरेशन ने हर शहर में ब्रैडमैन के अविसवश्नीय रिकॉर्ड 99.94 को डाकिये के रूप में स्थापित किया है. ऑस्ट्रेलिया के हर शहर में डॉन ब्रैडमैन के इस औसत को डाक पते की पहचान दी गई है.

बता दें कि सर ब्रैडमैन का यह एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिस पर विश्वास करना बेहद मुश्किल सा लगता है. टेस्ट मैच में वो ऐसे पहले खिलाड़ी है, जिसने ऐसा कारनामा कर दिखाया है.

बेहतरीन बल्लेबाज के साथ शानदार गेंदबाज भी थे डॉन ब्रैडमैन

 

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज और विस्फोटक खिलाड़ी ब्रैडमैन एक बेहतरीन बल्लेबाज के साथ ही शानदार गेंदबाज भी थे. जी हां ब्रैडमैन बल्लेबाजी के साथ ही अपनी लेफ्ट आर्म लेग ब्रेक बोलिंग के लिए भी प्रसिद्ध थे. हालाँकि डॉन के इस फ़ॉर्मेट में कुछ ख़ास रिकॉर्ड दर्ज नहीं रहे हैं. लेकिन यह बेहद दिलचस्प है कि एक बेहतरीन और विस्फोटक बल्लेबाज होने के साथ ही वह शानदार गेंदबाज भी थे.

मास्टर ब्लास्टर सचिन की बेहतरीन पारी देख खुद से की थी तुलना 

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

सर ब्रैडमैन एक वक्त में खेल के मैदान में भारतीय टीम के विस्फोटक खिलाड़ी मास्टर ब्लास्टर सचिन की बेहतरीन बल्लेबाजी का नजारा ले रहे थे. इस दौरान वह सचिन की 134 रन की पारी देख गदगद ही गए थे और उन्होंने अपनी तुलना सचिन से की थी.

बल्लेबाजी, गेंदबाजी के अलावा अंपायरिंग में भी दिखाया अपना दम

दा डॉन के नाम से मशहर सर ब्रैडमैन एक सर्वकालिक खिलाड़ी थे, जिनमे बेशुमार टैलेंट था. बता दें कि क्रिकेट इतिहास में ऐसा खिलाड़ी अब शायद ही सामने आये जो एक बेहतरीन बल्लेबाज, गेंदबाज और अंपायर भी रहा हो. यही नहीं सर ब्रैडमैन इन सबके अलावा एक म्यूजिशियन भी थे.

सिंगर भी थे ब्रैडमैन

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

सर ब्रैडमैन क्रिकेट की दुनिया के किंग तो थे ही साथ ही वह सिंगिंग में भी एक उस्ताद थे, बता दें कि ब्रैडमैन ने अपने क्रिकेट करियर के अलावा कई गाने भी गए हैं और म्यूजिक दिया है.

जी हां, ब्रैडमैन को यह हुनर उनकी बहन लिलियन से मिला. लिलियन एक प्यानो टीचर थीं और उन्होंने अपने भाई ब्रैडमैन को सिंगिंग सिखाई. इसके बाद डॉन ब्रैडमैन ने इसको भी एक बेहतरीन रूप में लोगों के सामने पेश किया और इस टैलेंट से भी दर्शकों का दिल जीता.

जब भी ब्रैडमैन को क्रिकेट से फुर्सत मिलती तो वह अपने साथियों के लिए प्यानो बजाते और म्यूजिक को एन्जॉय करते. इसके साथ ही वह पब्लिक प्लेस में भी जाकर प्यानो से लोगों को अपना दीवाना बनाते.

दो गाने किये कंपोज 

on-don-bradman-death-aniversary-some-unknown-facts

ब्रैडमैन ने साल 1930 में एक गाना गाया और म्यूजिक दिया जिसका नाम एवरी डे इज ए रेनबो डे था. इस गाने के साथ ही डॉन ने दो और गानों में बतौर प्यानिस्ट रिकॉर्ड किये थे, जो काफी पसंद किये गए थे. इन गानों के नाम एन ओल्ड फैशन लोकेट और आवर बंगलो ऑफ़ ड्रीम्ज थे.

Related posts

Leave a Reply