विश्व का एकलौता भारतीय बल्लेबाज जो टेस्ट क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज बना चुका है 33 शतक 1

आईसीसी ने टेस्ट क्रिकेट को और लोकप्रिय बनाने के लिए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज किया है, इसकी शुरुआत एशेज सीरीज के साथ हुई है, अब भारत ने वेस्टइंडीज के विरुद्ध एक टेस्ट सीरीज अपने नाम की है और अब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अभी टेस्ट सीरीज खेल रही है, जिसमे कई खिलाड़ियों ने शानदार  प्रदर्शन दिया है इन सब के बाद भी भारतीय टीम का एक ऐसा भी खिलाड़ी है जो बतौर ओपनर 33 शतक चुका है.

टेस्ट क्रिकेट में 33 शतक जड़ने वाला भारतीय खिलाड़ी

टेस्ट क्रिकेट

यह भारतीय खिलाड़ी कोई और नहीं पूर्व भारतीय दिग्गज खिलाड़ी सुनील गावस्कर है, इन्होने एक पारियों में दो शतक का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया था, वैसे यही भारत का अकेला ऐसा खिलाड़ी है जिसने बतौर स्दालामी बल्लेबाज 33 शतक बना रखे हैं, इनके नाम एक और शतक भी ह्स्मैल है जो नंबर 4 पर खेल कर बनाया गया है. इन्होने यह 33 शतक वर्ष 1971 से 1987 के बीच में खेल कर बनाया है. उन्होंने यह मुकाम सिर्फ 110 पारियों में हासिल किया है.

विश्व का एकलौता भारतीय बल्लेबाज जो टेस्ट क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज बना चुका है 33 शतक 2

अब बात अगर इनके टेस्ट करियर  की हो तो इन्होने कुल 125 मैच खेले है जिसमे इन्होने 51.12 के औसत से 10122 रन बनाए है इस पारी में 34 शतक 4 दोहरे शतक और 45 अर्धशतक बनाए है. वही वनडे में इनका प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा है ऐसे में अगर इनको टेस्ट क्रिकेट का महान खिलाड़ी बोला जाये तो कुछ गलत नहीं होगा.

टेस्ट में यह खिलाड़ी तोड़ सकते हैं सुनील गावस्कर का रिकॉर्ड

विश्व का एकलौता भारतीय बल्लेबाज जो टेस्ट क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज बना चुका है 33 शतक 3

इस समय भारतीय टीम कई नए चेहरों को खेलने का मौका दे रही है ऐसे में अभी केएल राहुल के खराब फॉर्म के बाद रोहित शर्मा को उनकी जगह बतौर सलामी बल्लेबाज उतारा गया है, जहाँ उन्होंने खुद को साबित किया है उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध अपनी दोनों परियों में शतक जड़ा था इसके साथ ही बतौर ओपनर उन्होंने 1 मैच में 2 शतक अपने नाम किये हैं, वैसे टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 5 शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं.

इसके बाद अगर कोई खिलाड़ी गावस्कर के रिकॉर्ड को अपने नाम कर सकता है तो वो है मयंक अग्रवाल, इन्होने अभी तक 6 मैच और 10 पारी खेली है यह सब मैच इन्होने बतौर सलामी बल्लेबाज खेला है, इसमें इन्होने 60.50 के औसत से 605 रन बनाए है. 1 मैच में ही उन्होंने एक पारी में दोहरा शतक भी बनाया है, दूसरे टेस्ट मैच में भी उन्होंने 108 रन बनाए. ऐसे में अगर रोहित और मयंक ऐसा ही प्रदर्शन देते रहे तो कुछ ही समय में वो इस दिग्गज के रिकॉर्ड को अपने नाम कर पायेगे.