किंग्स XI पंजाब की शर्मनाक हार के बाद कप्तान मैक्सवेल सहित सभी विदेशी बल्लेबाजों पर जमकर फूटा सहवाग का गुस्सा लगाई कड़ी फटकार | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

किंग्स XI पंजाब की शर्मनाक हार के बाद कप्तान मैक्सवेल सहित सभी विदेशी बल्लेबाजों पर जमकर फूटा सहवाग का गुस्सा लगाई कड़ी फटकार 

किंग्स XI पंजाब की शर्मनाक हार के बाद कप्तान मैक्सवेल सहित सभी विदेशी बल्लेबाजों पर जमकर फूटा सहवाग का गुस्सा लगाई कड़ी फटकार

इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को एक अहम मुक़ाबले में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट ने पंजाब XI पंजाब को 9 विकेट से हरा दिया है. मैच में पंजाब ने पहले बल्लेबाज़ी किया, जिसके बाद किंग्स XI की पूरी टीम 15.5 ओवरों में  महज 73 रनों पर आल-आउट गई. 74 रनों के जवाब में पुणे के टीम 1 विकेट खोकर मैच आसानी से अपने नाम किया. #FLASHBACK आज ही के दिन मिली थी 2011 विश्वकप की सबसे बड़ी जीत, जिसका जश्न फाइनल से ज्यादा मनाया गया था

हार के प्लेऑफ के रेस से बाहर हुई पंजाब

राइजिंग पुणे के विरुद्ध शर्मनाक हार के बाद किंग्स XI पंजाब की टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई हैं. आईपीएल 10 में पंजाब ने 14 मैचो में से 7 मैचो में जीत दर्ज की, जबकि 7 मैच में टीम को हार का सामना करना पड़ा.

टीम की हार के बाद कप्तान मैक्सवेल पर भड़के पंजाब के कोच

टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद पंजाब के कोच सहवाग कप्तान मैक्सवेल सहित मॉर्गन, मार्श पर जमके बरसे. Photos : शोएब के बिना ही मिनी हॉलिडे पर निकली सानिया मिर्ज़ा, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है तस्वीरें

सहवाग ने कहा, “मैक्सवेल ऑस्ट्रेलिया के लिए सभी फॉर्मेट में (टी-ट्वेंटी, एकदिवसीय, टेस्ट) क्रिकेट खेलते हैं. उन्हें इस तरह की स्थिति से पार पाना आना चाहिए. मैक्सवेल ने इस मैच में बिल्कुल भी जिम्मेदारी नहीं ली. इस मैच में हम अंत के 4 ओवर नहीं खेल पाए और उससे पहले ही ऑल आउट हो गए. इस धीमे पिच पर इन 4 ओवर में हम सम्माजनक लक्ष्य के लिए कुछ रन और बना सकते थे.”

गुप्टिल, मार्श और मॉर्गन अन्तराष्ट्रीय स्तर के बेहद अनुभवी और बड़े खिलाड़ी है, ऐसे में उनका प्रदर्शन से भी सहवाग खासे नाराज़ हैं.

सहवाग ने कहा, “गुप्टिल मैच की शुरुआत में ही आउट हो गए इसलिए उन्हें दोष देना ठीक नहीं क्योंकि उन्हें तेज शुरुआत की जिम्मेदारी मिली थी, लेकिन गुप्टिल के  अलावा शॉन मार्श, ओइन मॉर्गन और कप्तान ग्लेन मैक्सवेल को टीम को मझधार से निकालने की जिम्मेदारी अपने हाथ में लेनी थी, लेकिन इनमें से कोई भी बल्लेबाज 12 से 14 ओवर तक क्रीज पर रुकने को राजी नहीं हुआ.” दिल्ली के खिलाफ मुंबई को आईपीएल के इतिहास की सबसे बड़ी जीत दिलाने वाले लेंडल सिमंस की ऐसी है पर्सनल लाइफ, जीते है रॉयल ज़िन्दगी

इस पिच पर 120 का स्कोर अच्छा रहता

किंग्स XI पंजाब के कोच सहवाग ने कहा कि शॉन मार्श और ओइन मॉर्गन इस टीम के सीनियर खिलाड़ी थे और उन दोनों को जिम्मेदारी लेकर 12 से 14 ओवर तक विकेट पर रुके रहने की कोशिश करनी चाहिए थी. टीम के अनुभवी खिलाड़ियों ने विकेट के धीमे होने को ख़राब बल्लेबाज़ी का जिम्मेदार ठहराया.

पिच को जिम्मेदार ठहराने पर सहवाग ने कहा, कि ”अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस तरह की शिकायत करके आप बच नहीं सकते. आपको हर बार बल्लेबाज़ी के लिए आसान पिच नहीं मिलती. आपको इस तरह की परिस्थिति से निपटना आना चाहिए.”

सहवाग ने कहा, अगर हम इस धीमी पिच पर 120 के करीब स्कोर बना लेते तो इस मैच में हम पुणे को चुनौती दे सकते थे. आईपीएल में होस्टिंग कर इतना पैसा कमाती हैं ये फीमेल एंकर, सुनकर दंग रह जायेंगे आप

Related posts