आईपीएल रद्द भी हुआ तो फ़ायदे में रहेंगे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, ये है अहम वजह 1

आईपीएल 2021 में खेलने वाले आस्ट्रेलियाई खिलाडियों की इस बार चांदी होना वाली हैं, अगर किन्हीं कारणों से आईपीएल नहीं हो पाया तो इसके बाद भी आस्ट्रेलिया के खिलाडियों पर किसी प्रकार का कोई असर नहीं पड़ेगा.

बीसीसीआई ने कोरोना के मामलों को चलते आईपीएल 2021 को 20 मैचों के बाद स्थगित कर दिया था. आईपीएल की चार टीमों के खिलाडियों और स्टाफ सदस्यों को कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई थी. लेकिन इसके बावजूद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को आईपीएल में उनकी कमाई का पूरा पैसा मिलेगा. क्या है इसके पीछे की वजह, चलिए जानते हैं.

इस वजह से होगा आस्ट्रेलिया के खिलाडियों को फायदा

आईपीएल 2021

गौरतलब है कि आईपीएल में आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी सभी टीमों में शामिल हैं. आईपीएल 2011 (IPL 2011) के बाद से ही फ्रेंचाइजियां अपने खिलाडियों को इंश्योरेंस देती हैं. ऐसा इसलिए किया जाता है जिससे कोई भी खिलाड़ी बीच में वापस चला जाए तो उसके पैसों पर किसी प्रकार का कोई असर ना पड़े.

इंश्योरेंस पालिसी के तहत टूर्नामेंट का कैंसिल होना भी इसमें कवर किया जाता है. इससे सभी खिलाडियों को उनका पूरा पैसा मिलेगा. हालांकि आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के पास सिंतबर माह में समय हैं तो ऐसे में अगर बीसीसीआई की ओर से आईपीएल का आयोजन सिंतबर माह में किया जाता है तो आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी टूर्नामेंट में शामिल हो सकते हैं.

सिंतबर में खेल सकते हैं आईपीएल के बचे हुए मैच

डेविड वॉर्नर

हालांकि इसके बाद आस्ट्रेलिया के खिलाड़ी बिजी रहेंगे, उन्हें टी-20 विश्वकप में खेलना है. इसके साथ ही नवंबर में अफगानिस्तान के साथ एक टेस्ट मैच खेलना है. इसके बाद एशेज़ सीरीज़ भी शुरु हो जाएगी.

कहा जा रहा है कि अगर आईपीएल 2021 किन्हीं कारणों से कैंसिल होता है तो बीसीसीआई को 2500 करोड़ रुपये का नुकसान होगा. इसकी सबसे बड़ी वजह विज्ञापनों से होने वाली कमाई है.

आईपीएल कैंसिल हुआ तो हमें होगा भारी नुकसान – सौरव गांगुली

केविन पीटरसन

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा कि हम अगर किन्हीं कारणों से आईपीएल को पूरा कराने में असमर्थ हो जाते हैं. तो हमें करीब ढ़ाई हजार करोड़ रुपये का नुकसान होगा.

इसके साथ ही कहा कि ये महज एक शुरुआती आंकलन है. गौरतलब है कि भारत में कोरोना की पहली लहर के चलते आईपीएल को यूएई में सफलतापूर्वक आयोजित किया गया था. पिछले साल वीवो स्पांशरसिप से हटने के बाद बीसीसीआई को वैसे भी नुकसान उठाना पड़ा था.