अहमद शहजाद ने उमर अकमल से तुलना पर कही ये बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद ने उमर अकमल से तुलना पर कही ये बात 

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद ने उमर अकमल से तुलना पर कही ये बात

पाकिस्तान क्रिकेट टीम पिछले कुछ वक्त से लगातार निराशाजानक प्रदर्शन कर रही है. वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई किए बिना स्वदेश वापसी की. इसके बाद श्रीलंका के खिलाफ घरेलू टी 20 सीरीज में हार का सामना किया. मौजूदा वक्त में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आई पाकिस्तान क्रिकेट टीम टी 20 सीरीज गंवा चुकी है. इन सबके बीच पाकिस्तान के अहमद शहजाद ने अपनी निराशाजनक बल्लेबाजी की तुलना उमर अकमल के साथ न करने की बात कही है.

अहमद शहजाद ने किया था श्रीलंका के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद ने उमर अकमल से तुलना पर कही ये बात 1

लंबे वक्त से पाकिस्तान क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद को श्रीलंका के खिलाफ खेली गई टी 20 घरेलू सीरीज में मौका दिया. लेकिन शहजाद इस मौके को भुनाने में नाकामियाब रहे.

खेले गए 2 मैचों में उन्होंने 4, 13 रन बनाए. इस निराशाजनक प्रदर्शन के बाद शहजाद आलोचकों के निशाने पर आ गए और चारों तरफ सलामी बल्लेबाज को ट्रोल किया जाने लगा. इतना ही नहीं निराशाजनक प्रदर्शन के चलते आलोचक उऩकी तुलना टीम के सीनियर खिलाड़ी उमर अकमल से करने लगे.

अपने निराशाजनक प्रदर्शन पर जियोटीवी से बात करते हुए कहा, “मैं अपने खराब प्रदर्शन को लेकर बहाने नहीं दे सकता। मैं यह नहीं कह सकता कि मुझे केवल दो मैच मिले और किसी और को 10 में से पांच मिले। बस मैं कोशिश करुंगा कि अगली बार जब भी मौका मिलेगा, मैं अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगा।”

उमर अकमल से न करें मेरी तुलना

उमर अकमल

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज उमर अकमल ने अपने करियर के शुरुआती दिनों में बेहतरीन प्रदर्शन किया. लेकिन फिर उनके करियर का ग्राफ नीचे की ओर रहा. इसलिए जब शहजाद ने लंबे वक्त बाद टीम में वापसी करने के बाद खराब प्रदर्शन किया तो आलोचक उनकी तुलना उमक अकमल से करने लगे. इसपर शहजाद ने आपत्ति जताते हुए कहा,

“उनकी अपनी जिंदगी है और मेरी अपनी है. इसलिए प्लीज मैं रिक्वेस्ट करता हूं कि हमारी तुलना नहीं की जाए। मुझे इस बात पर आंका जाना चाहिए कि मैं क्या करता हूं. यह भी उस पर अनुचित होगा यदि मैं गलती करता हूं तो आप लोग दोषी उसे ठहराने लगते हैं. ”।

मेहनत करके टीम में करूंगा वापसी

सलामी बल्लेबाज ने यह कहते हुए भी अपना बचाव किया कि वह हमेशा खुद को बेहतर बनाने और राष्ट्रीय टीम में वापसी करने की कोशिश करते हैं। कई आलोचकों के अनुसार शहजाद का करियर अब अंत की कगार पर है.

“कुछ खिलाड़ियों को एक या दो मैच मिलते हैं और फिर कभी नहीं देखा जाता है, लेकिन मेरे पास पहले से ही कई मैच हैं। मैं और भी कड़ी मेहनत करूंगा और पहले से बेहतर बनकर आऊंगा।

Related posts