पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को बीसीसीआई के खिलाफ लीगल कारवाई करने की अनुमति मिली | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को बीसीसीआई के खिलाफ लीगल कारवाई करने की अनुमति मिली 

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को बीसीसीआई के खिलाफ लीगल कारवाई करने की अनुमति मिली

बोर्ड ऑफ गवर्नर्स ने शुक्रवार 30 दिसम्बर को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को बीसीसीआई के खिलाफ लीगल कारवाई करने की अनुमति दे दी है जिसके चलते भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के ऊपर एक बार फिर से संकट के बादल मंडरा रहे हैं. इस बात की जानकारी पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ) के चेयरमैन शहरयार खान और नजम सेठी ने मीडिया से बातचीत के दौरान दी.

यह फैसला बोर्ड ऑफ गवर्नर्स ने दिया. बीसीसीआई ने पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह के संबंध रखने से साफ़ इंकार कर दिया था. जिसके बाद से दोनों देशो के बीच कोई भी मैच और सीरीज होने के असार नहीं लग रहे थे. अगले साल इंग्लैंड में चैंपियंस ट्राफी खेली जानी है और उसमे पाकिस्तान और भारत की टीमें आमने सामने होंगी. लेकिन बीसीसीआई ने वहाँ भी पाकिस्तान के साथ ना खेलने के संकेत फिर से दे दिए थे.

यह भी पढ़े : शहरयार खान ने कहा नहीं हो सकती भारत और पाक के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला और बताई ये वजह

पीसीबी के चेयरमैन शहरयार खान ने कहा,

“बोर्ड ऑफ गवर्नर्स ने हमे अनुमति दे दी है और अगर भारत ने चैंपियंस ट्राफी के दौरान हमारे साथ खेलने से इनकार किया तो हम उनके के खिलाफ लीगल कारवाई कर सकते हैं. भारत ने पहले ही हमारा काफी नुकसान कराया है और आगे अब हम यह बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे.”

नजम सेठी ने कहा,

“अब हमने भी अपना धैर्य खो दिया है, किसी भी चीज की एक सीमा और हद होती है भारत ने उसे पार कर दिया है और हमने काफी नुकसान सहा है. भारत ने सीरीज रद्द करके हमे काफी आर्थिक क्षति पहुँचायी है और आगे हम यह सहन नहीं करेंगे.”

जिसके चलते पीसीबी ने बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के साथ में इसकी चर्चा की और उसे बीसीसीआई के खिलाफ लीगल कारवाई करने की अनुमति मिल गयी है. भारत ने पाक के साथ क्रिकेट ही नहीं बल्कि हर तरह से सम्बन्ध रखने से साफ़ मना कर दिया था.

यह भी पढ़े : गेंदबाज के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाले स्टीव स्मिथ ने बताया अब क्यों नहीं करते गेंदबाजी

भारत ने ऐसा इलसिए किया था क्योंकि पकिस्तान से हमेशा से आतंकवादी गतिविधियाँ होती आई हैं जिसके चलते सीमा पर हमारे जवान शहीद होते आये हैं. कुछ दिन पहले उरी में भी आतंकवादी हमले हुए थे, जिमसे हमारे 19 जवान शहीद हुए उसके बाद से भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा कदम उठाया है और सारे रिश्ते खत्म करने के आदेश दे दिए थे.

Related posts