भारत से खराब रिश्तों के चलते इमरान सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, अब पाकिस्तान में ही लोग नहीं देख पाएंगे पाकिस्तान क्रिकेट टीम का मैच

साल 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों के बाद से भारत ( India) और पाकिस्तान ( Pakistan) के रिश्तों में आई दरार का असर क्रिकेट में पूरी तरह से देखने को मिला. भारत सरकार ने साफ कर दिया है कि जब तक पाकिस्तान आंतक का भारत के खिलाफ इस्तेमाल करता रहेगा कोई भी द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं होगा. दोनो देश आईसीसी के टूर्नामेंट में ही साथ खेलते हैं.

इसी क्रम में पाकिस्तान सरकार ने भी एक बड़ा फैसला लिया है.पाकिस्तान कैबिनेट ने मौजूदा राजनीतिक तनाव के कारण आगामी पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड क्रिकेट सीरीज के लाइव प्रसारण के लिए एक भारतीय कंपनी के साथ संपर्क करने के प्रस्ताव को मंगलवार को खारिज कर दिया.

पाकिस्तान सरकार ने लिया बड़ा फैसला

पाकिस्तान

पाकिस्तान ( Pakistan) कैबिनेट ने मौजूदा राजनीतिक तनाव के कारण आगामी पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड ( Pakistan vs England) क्रिकेट सीरीज के लाइव प्रसारण के लिए एक भारतीय कंपनी के साथ संपर्क करने के प्रस्ताव को मंगलवार को खारिज कर दिया। सूचना मंत्री फवाद चौधरी (Fawad Chaudhry) ने कैबिनेट बैठक के बाद मीडिया को इस बारे में पूरी जानकारी दी.

पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्री सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा,

“कैबिनेट ने इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान क्रिकेट श्रृंखला को प्रसारित करने के लिए स्टार और सोनी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए पीटीवी के अनुरोध को खारिज कर दिया है.”  इमरान खान सरकार ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि भारत के साथ संबंध जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटने के बाद से नहीं होंगे.

पाकिस्तान सरकार के इस फैसले के बाद अब पाकिस्तान टीम का ही क्रिकेट मैच पाकिस्तान में ही लाइव नहीं देखा जा सकेगा.

अनुच्छेद 370 को लेकर चिढ़ा पाकिस्तान

पाकिस्तान

भारत सरकार द्वारा कश्मीर में धारा 370 बहाल किए जाने से पाकिस्तान चिढ़ा हुआ है. पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्री सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने भी इस बात को स्वीकार किया है. उन्होंने कहा,

“भारत के साथ हमारे संबंध तब तक सामान्य नहीं हो सकते जब तक कि उन एक्शन्स (अनुच्छेद 370) को वापस नहीं ले लिया जाता.” दक्षिण एशिया के लिए सभी क्रिकेट सामग्री पर स्टार और सोनी का एकाधिकार है और किसी भी भारतीय कंपनी के साथ समझौते की अनुपस्थिति के कारण इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान सीरीज पाकिस्तान में प्रसारित नहीं की जाएगी.”

8 जुलाई से इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच सीरीज शुरू होनी है. पाकिस्तान सुपर लीग यानी पीएसएल के बाद सभी खिलाड़ी यूके रवाना होंगे.

पाकिस्तान सरकार ने समस्या हल करने का दिलाया भरोसा

पाकिस्तान

पाकिस्तान सरकार के इस फैसले के बाद अब वहां के लोग अपनी देश की टीम का लाइव मैच नहीं देख पाएंगे. हालांकि फवाद चौधरी ने कहा कि सरकार प्रसारण अधिकार सुरक्षित करने के लिए इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB)) और अन्य विदेशी कंपनियों से संपर्क करके बीच का रास्ता निकालने की कोशिश कर रही है.

फवाद चौधरी ने यह भी कहा कि कैबिनेट के फैसले से पीटीवी और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को वित्तीय नुकसान होगा. 8 जुलाई से इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच सीरीज शुरू होनी है. एक तरह से देखा जाए तो पाकिस्तान ने ये फैसला करके अपना ही नुकसान किया है.