आईपीएल 2020

क्रिकेट को जेन्टलमेन गेम कहा जाता है, लेकिन समय-समय पर सट्टेबाजी का साया इस गेम पर मंडरा नजर आता है। अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने खुलासा किया है कि खेले जा रहे नेशनल टी20 क्लब में हिस्सा लेने वाले एक खिलाड़ी से एक संदिग्ध सट्टेबाज ने संपर्क किया है। हालांकि सुरक्षा हेतु खिलाड़ी का नाम नहीं बताया गया है।

पाकिस्तान के खिलाड़ी से सट्टेबाज ने किया संपर्क

पाकिस्तान

क्रिकेट एक बेहद साफ सुथरी छवि वाला खेल है, लेकिन कुछ सटोरियों द्वारा अक्सर इसमें फिक्सिंग का प्रयास होता है, जो इस खेल की छवि को खराब करता है। अब इसी क्रम में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने खुलासा किया है कि नेशनल टी20 क्लब के दौरान एक खिलाड़ी के साथ संदिग्ध सट्टेबाज ने संपर्क साधने का प्रयास किया है। पीसीबी ने बयान में कहा,

“सूचना मिलने के बाद पीसीबी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई ने स्वयं जांच की और कुछ संवेदनशील सूचना मिली, जिसे एफआईए (संघीय जांच एजेंसी) को दे दिया गया है, जिसे जरूरी विशेषज्ञता हासिल है और इस तरह के मामलों की जांच के संसाधान, क्षमता और अधिकार उसके पास है।’ खिलाड़ियों ने संपर्क किए जाने की जानकारी बोर्ड के भ्रष्टाचार रोधी और सुरक्षा निदेशक आसिफ महमूद को दी।”

पाकिस्तान का फिर आया फिक्सिंग में नाम, खुद पीसीबी ने की पुष्टि 1

जांच को नहीं कर सकते हैं प्रभावित

पाकिस्तान

हाल ही में यूएई में बायो सिक्योर वातावरण में खेले जा रहे आईपीएल 2020 में सटोरिए ने एक खिलाड़ी से संपर्क साधने का प्रयास किया था। जिसके जानकारी खिलाड़ी ने तत्काल प्रभाव से बीसीसीआई को दी। सुरक्षा के चलते खिलाड़ी के नाम का खुलासा नहीं किया गया था। मगर अब पाकिस्तान से फिक्सिंग की खबर सामने आई है। महमूद ने कहा,

“हम मौजूदा जांच को प्रभावित नहीं कर सकते इसलिए इस संपर्क की कोई भी जानकारी देना अनुचित होगा। पीसीबी जांच की प्रगति की जानकारी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद देता रहेगा। हमें पता है कि कुछ भ्रष्ट लोगों के कारण खेल पर खतरा है जो अपने निजी फायदे के लिए क्रिकेटरों को गुमराह करने की कोशिश करते हैं।”

जानकारी के लिए बता दें, नेशनल टी20 क्लब में बाबर आजम, मोहम्मद हफीज और इमान वसीम जैसे तमाम बड़े-बड़े खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं।