बांग्लादेश पर सिर्फ जीत दर्ज करने से नहीं होगा पाकिस्तान का सेमीफाइनल का सपना

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

बांग्लादेश के खिलाफ अगर ये काम कर गया पाकिस्तान तो न्यूज़ीलैंड को हटा सेमीफाइनल में बना लेगा जगह 

बांग्लादेश के खिलाफ अगर ये काम कर गया पाकिस्तान तो न्यूज़ीलैंड को हटा सेमीफाइनल में बना लेगा जगह

पाकिस्तान ने सोचा भी नही होगा की इस विश्व कप मे पाकिस्तान ने अपने पहले मैच मे वेस्टइंडीज से जो हार हासिल की थी उसका इतना बड़ा खामियाजा उसको भुगतना पड़ेगा. पाकिस्तान को भारत और न्यूजीलैंड से उम्मीद थी की वो इंग्लैंड को हरा देगा ताकि पाकिस्तान का रास्ता साफ़ हो जाये, पर ऐसा हुआ नहीं. आज पाकिस्तान सेमीफाइनल मे जाने के लिए बांग्लादेश के खिलाफ एक चमत्कार कर सकता है.

बांग्लादेश के खिलाफ सिर्फ जीत से नहीं होगा कुछ, वेस्टइंडीज की हार ले डूबी

बांग्लादेश

आज लंदन के लॉर्ड्स के मैदान पर पाकिस्तान सेमीफाइनल मे जाने के लिए बांग्लादेश से भिड़ेगा. इसमें अगर पाकिस्तान की सिर्फ जीत हो भी जाती है तो भी उसको कोई फायदा नहीं होने वाला.

अंक तालिका मे न्यूजीलैंड के पास 11 अंक है और अगर बांग्लादेश हार जाता है तो उसके 11 पॉइंट्स तो  हो जाएंगे, दोनों टीमों के बीच का रन रेट मे बहुत बड़ा फासला है.  पाकिस्‍तान का रनरेट माइनस 0.792 है. और न्यूजीलैंड का  0.175 है.

कैसे जीत सकता है पाकिस्तान

बांग्लादेश

अगर पाकिस्तान टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ इतनी बुरी तरह से नहीं हारती तो शायद वह भी आसानी से सेमीफाइनल का अपना सफार तय कर लेती. अब बांग्लादेश के खिलाफ मैच मे अगर पाकिस्तान टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने उतरती है तो ऐसे मे पाकिस्तान को.

पाकिस्‍तान ने अगर 350 रन बनाए तो बांग्‍लादेश को 311 रन से हराना होगा.
पाकिस्‍तान ने अगर 400 रन बनाए तो उसे 316 रन से मैच जीतना होगा.
मैन इन ग्रीन ने 450 रन बनाए तो उसे बांग्‍लादेश को 321 रन से हराना होगा.
अगर 308 रन से कम बने तो फिर पाकिस्‍तान का सफर समाप्‍त हो जाएगा.

बांग्लादेश पाकिस्तान मैच मे टॉस हो सकता है जीत का फैक्टर

बांग्लादेश

पाकिस्तान अगर टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी का फैसला करता है, ऐसा होता है तो मैन इन ग्रीन पर पहली गेंद फेंके जाते ही बाहर होने का खतरा होगा. लक्ष्‍य का पीछा करते हुए उसके सामने असंभव लक्ष्‍य होगा.

यदि बांग्‍लादेश पहले बल्‍लेबाजी करती है तो पाकिस्‍तान को पहले ओवर में 1330 से ज्‍यादा रन का पीछा करना होगा. क्रिकेट में ऐसा करना असंभव होता है. क्‍योंकि ऐसा तभी हो पाएगा जब विपक्षी टीम दिनभर के लिए नोबॉल डालती रहे और छक्‍के खाती रहे.

Related posts