टी20 विश्व कप से पहले रोहित और द्रविड़ पर है ये बड़ी जिम्मेदारी, पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज ने दिया बड़ा बयान 1

टी20 वर्ल्ड कप का आगाज होने में लगभग 3 महीने का समय रह गया है. इस बार कुल 16 टीमें क्रिकेट के इस महामुकाबले का हिस्सा बनेगी. सभी टीमों ने अपनी-अपनी तैयारी शुरू कर दी है. भारतीय टीम भी वर्ल्ड कप के लिए अपनी तैयारियों में जुटी हुई है. टीम के कप्तान रोहित शर्मा की नजरें टी-20 वर्ल्ड कप के लिए अपने बेस्ट 15 खिलाड़ियों को चुनने पर है.

इसी बीच, भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) को लगता है कि अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आगामी ICC T20 विश्व कप 2022 से पहले कप्तान रोहित शर्मा और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ पर सही संयोजन प्राप्त करने की बहुत बड़ी जिम्मेदारी है.

Parthiv Patel ने कहा, कोच और कप्तान पर बड़ी जिम्मेदारी

Parthiv Patel ने कहा, कोच और कप्तान पर बड़ी जिम्मेदारी
Parthiv Patel ने कहा, कोच और कप्तान पर बड़ी जिम्मेदारी

दरअसल, साल 2007 में दक्षिण अफ्रीका में पहला टी20 खिताब जीतने के बाद से भारत को खेल के सबसे छोटे प्रारूप में एक और रजत पदक जीतना बाकी है. एक नए कप्तान और कोच के तहत आगामी टूर्नामेंट में भारत से अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीदें अधिक हैं. पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज (Parthiv Patel) का कहना है कि

“सही टीम का चयन भारत के लिए परिणाम निर्धारित करेगा. रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ पर ICC T20 विश्व कप 2022 के लिए सर्वश्रेष्ठ संयोजन के साथ आने की बड़ी जिम्मेदारी है.”

उन्होंने आगे कहा,

“ऑस्ट्रेलिया भारत को कड़ी टक्कर दे सकता है क्योंकि टीम मजबूत लगती है। यहां तक ​​कि इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका ने भी पिछले विश्व कप की तुलना में अपने खेल में सुधार किया है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया अधिक मजबूत दावेदार की तरह दिखता है।”

सौरव गांगुली की तारीफ में कही ये बात

Parthiv Patel ने सौरव गांगुली की तारीफ में कही ये बात
Parthiv Patel ने सौरव गांगुली की तारीफ में कही ये बात

वहीं, पिछले कुछ मैचों में भारतीय टीम की सलामी जोड़ी में लगातार बदलाव के बारे में पूछे जाने पर पटेल ने कहा,

“इसमें कोई संदेह नहीं है कि टीम फिटनेस के मुद्दों के कारण प्रायोगिक चरण में है। जिसका खिलाड़ी सामना कर रहे हैं।”

भारतीय टीम के साथ 17 साल की उम्र में अपना करियर शुरू करने वाले पार्थिव पटेल ने पुरानी यादों को ताजा करते हुए बताया कि कैसे भारत के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के पास सबसे अच्छा प्रबंधन कौशल था और वह सभी को शांत करने में अच्छे थे.

“अगर हमारा दिन बहुत अच्छा नहीं चल रहा था, या खेल अच्छा नहीं चल रहा था, तो वह सभी को अच्छा महसूस कराता था। वह हमेशा मैरीगोल्ड बिस्कुट अपने साथ ले जाता था और सभी को देता था.”

Ankit Kunwar

Sports Journalist At Sportzwiki || Sr. Content Editor || Content Producer