एक अखबार रिपोर्ट से पता चला है कि पेप्सिको ने स्पॉट फिक्सिंग विवाद की वजह से टूर्नामेंट की खराब होती इमेज को देखकर आईपीएल से अलग होने की इच्छा जताई है। और पेप्सिको ने बीसीसीआई को नोटिश भी भेज दिया है|

पेप्सिको ने 2013 से 2017 के बीच इस टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए 396 करोड़ रुपए की रकम चुकाई थी। इस रिपोर्ट से ये पता चला है कि बीसीसीआई 18 अक्टूबर को होने वाली अपनी वर्किंग कमेटी की मीटिंग में इस नोटिस पर चर्चा करेगी| इस बारे में आईपीएल चीफ ऑपरेटिंग अधिकारी रमन ने बीसीसीआई के नए अध्यक्ष शशांक मनोहर को जानकारी दे दिया है| लेकिन पेप्सिको कंपनी ने अभी तक आईपीएल से अपने रिश्तों को तोड़ने का ऑफिसियल ऐलान नहीं किया है|
 

पेप्सिको ने बीसीसीआई को भेजा नोटिस, आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सर से अलग होने की इच्छा जताई 1

सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले को जुलाई में अपना फैसला सुनाई थी| जिसमे बीसीसीआई के पूर्व चेयरमैन एन. श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन और शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा पर लाइफटाइम बैन लगा दिया गया था।   

Sportzwiki संपादक

sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के...

Leave a comment