///

WORLD CUP 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ ज्यादा से ज्यादा डॉट बॉल करने की रणनीति थी: युज्वेंद्र चहल

शनिवार, 22 जून को साउथैम्पटन के मैदान पर भारत और अफगानिस्तान के बीच एक बेहद ही रोमांचक मुकाबला खेला. भारतीय टीम ने अफगानिस्तान के सामने मात्र 225 रनों का लक्ष्य रखा था और इस लक्ष्य के जवाब में अफगानिस्तान की टीम 213 रन पर ऑल आउट हो गयी और भारतीय टीम ने यह मुकाबला 11 रन से जीतकर अपने नाम किया.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

टीम की इस यादगार जीत में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने शानदार हैट्रिक बनाई. शमी के हैट्रिक के साथ साथ पूरी टीम ने लाजवाब गेंदबाजी और फील्डिंग का नमूना भी पेश किया.

चहल का भी रहा अहम योगदान 

WORLD CUP 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ ज्यादा से ज्यादा डॉट बॉल करने की रणनीति थी: युज्वेंद्र चहल 1

भारतीय टीम की जीत में यूँ तो कहने को सभी ने बेहतरीन खेल दिखाया, लेकिन बात अगर सिर्फ युजवेंद्र चहल की करे तो, चहल का भी मैच में काफी लाजवाब खेल देखने को मिला. युजवेंद्र चहल ने पूरे मैच में मात्र 36 रन देकर दो विकेट अपने नाम किया और एक शानदार कैच भी पकड़ा. हाल में ही स्पोर्ट्स्टार ने चहल से इस जीत के बाद बातचीत की और उनके सबसे पहले उनके द्वारा पकड़े गये कैच के बारे में सवाल किया गया.

युजवेंद्र चहल ने मैच में जसप्रीत बुमराह की गेंद पर रहमत शाह का कैच पकड़ा था. कैच के बारे में बात करते हुए चहल ने कहा, ”वह काफी अच्छा कैच था. कुछ लोगों का ऐसा मानना था कि मैं ऐसा कैच नहीं पकड़ सकता लेकिन मैंने ऐसा कर दिखाया. मैंने बस गेंद पर निगाहें बनाए रखी और मौके को हाथ से नहीं जाने दिया. यह वर्ल्ड कप हैं और आप यहाँ ज्यादा गलतियाँ नहीं कर सकते.”

सामने आया यह सकारात्मक पहलू

WORLD CUP 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ ज्यादा से ज्यादा डॉट बॉल करने की रणनीति थी: युज्वेंद्र चहल 2

टीम के कम स्कोर बनाने पर युजवेंद्र चहल ने अपने बयान में कहा, ”ज्यादातर हमारी टीम 340 से 350 के स्कोर बनाती हैं और हम मैच भी जीतते हैं, लेकिन जब आप स्कोर बोर्ड पर 240 या 230 से कम का स्कोर लगाते हैं तो आपको अपने गेंदबाजो पर भरोसा दिखाना होता हैं.”

भारतीय टीम ने सिर्फ 224 रन बनाए थे और टीम के लिए कप्तान विराट कोहली 67 के साथ साथ केदार जाधव ने भी बढ़िया 52 रनों की पारी खेली थी. चहल ने आगे अपने बयान में कहा, ”इस मैच से हमारे लिए कई सारे सकारात्मक पहलू सामने निकलकर आए, खासतौर पर मुश्किल विकेट पर केदार जाधव का रन बनाना. हमे यह पता था कि हम जितना अफगानिस्तान पर दबाव कायम करेगे उतना ही टीम को फायदा पहुंचेगा.”

डॉट बॉल करना था जरुरी 

WORLD CUP 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ ज्यादा से ज्यादा डॉट बॉल करने की रणनीति थी: युज्वेंद्र चहल 3

यजुवेंद्र चहल ने आगे बयान में कहा कि उनका मैच में एकमात्र लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा डॉट गेंद डालना था, ताकि विपक्षी टीम पर दबाव आए. चहल ने आगे अपने बयान में कहा, ”मैं ज्यादा से ज्यादा डॉट बॉल डालना चाहता था, ताकि अफगानिस्तान का रन रेट बढ़े. बाद में पुरानी गेंद के साथ गेंदबाजी करने में काफी मदद मिल रही थी, जिसका भी हमें फायदा मिला.”

युजवेंद्र चहल ने अपने बयान में कहा, कि कुलदीप यादव के साथ रणनीति बनाना टीम के काम आया. चहल ने अंत में कहा, ”हमें यह पता था कि वह दबाव कम करने के लिए मेरे और कुलदीप के खिलाफ रन बनाने जाएगे और यही समय हो सकता था उन्हें आउट करने का. तब मैंने और कुलदीप ने डॉट बॉल डालने का प्लान बनाया. हम दोनों को पता था कि उनका जरुरी रन रेट अगर 6 के ऊपर रहा तब, हमारे पास जसप्रीत बुमराह और शमी उनके रोकने के लिए काफी थे.”

Akhil Gupta

Content Manager & Senior Writer at #Sportzwiki, An ardent cricket lover, Cricket Statistician.