सीओए प्रमुख विनोद राय ने कहा, सिर्फ इस छोटी सी शर्त पर पाकिस्तान से खेलेंगे सीरीज 1

दुनिया जानती है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड है. इसलिए दुनिया के सारे क्रिकेट बोर्ड भारत से खेलने के लिए उत्साहित रहते है. और वर्तमान में तो अगर कोई बोर्ड अगर भारत से खेलने को लेकर सबसे ज्यादा बेताब है, तो वो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड है. पीसीबी कई सालों से भारतीय बोर्ड को अपने संग सीरीज खेलने को लेकर मना रही है.

पाकिस्तान से तटस्थ स्थान पर सीरीज संभव 

सीओए प्रमुख विनोद राय ने कहा, सिर्फ इस छोटी सी शर्त पर पाकिस्तान से खेलेंगे सीरीज 2

इसी बीच क्रिकेट प्रेमियों के लिए एक ख़ुशी की खबर आई है. दरअसल, भारत-पाकिस्तान के बीच कोई अन्य देश में सीरीज हो सकती है. इस बात को खुद सीओए प्रमुख विनोद राय ने कहा है.

2007-08 के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला गया है और अगर कोई वनडे और टी20 मैच खेला गया है, तो वह भी अधिकतर आईसीसी के इवेंट में ही खेला गया है.

2012 में पाकिस्तान की टीम भारत आई थी, लेकिन पाकिस्तान के इस भारत दौरे में भी सिर्फ तीन वनडे और 2 टी20 मैच खेले गये थे और कोई भी टेस्ट मैच नहीं खेला गया था. इस द्विपक्षीय सीरीज के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच कोई द्विपक्षीय सीरीज नहीं हुई है.

हम अपने दिमाग में बहुत स्पष्ट हैं कि हम तटस्थ देश में ही खेलेंगे

सीओए प्रमुख विनोद राय ने कहा, सिर्फ इस छोटी सी शर्त पर पाकिस्तान से खेलेंगे सीरीज 3

इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से खबर आई है, कि जब क्रिकेट प्रशासक समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय से भारत-पाकिस्तान क्रिकेट सीरीज के भविष्य के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने अपने बयान में कहा, “मुझे लगता है, कि पाकिस्तान से खेलना या ना खेलना एक सरकारी नीति है. हमारी सरकार ने पाकिस्तान से खेलने के लिए विकल्प खुला रखा है, लेकिन ऐसा सिर्फ तटस्थ स्थान पर ही संभव है. हम अपने दिमाग में बहुत स्पष्ट हैं कि हम तटस्थ देश में ही खेलेंगे.”

पाकिस्तान से विश्व कप में नहीं खेलते, तो हम 1-2 अंक खो देते

भारत

साथ ही जब उनसे पूछा गया, कि विश्व कप में पुलवामा हमले के बाद भी हमने पाकिस्तान से क्यों खेला, तो उन्होंने कहा, “अगर हम पाकिस्तान से विश्व कप में नहीं खेलते, तो हम 1-2 अंक खो देते, चलिए ये उतना मायने नहीं रखता, लेकिन अगर मान लीजिए, कि पाकिस्तान सेमीफाइनल में आ जाता है और हम पीछे हट जाते हैं. क्या वह खुद के पैर पर कुल्हाड़ी मारने वाली बात नहीं हो जाती.”

cricket is my first and last love, I know cricket only cricket, I love watching cricket because cricket is my passion and my passion is my work my favourite player Mike Hussey and Kl Rahul