प्रणब के पिता ने किया खुलासा अर्जुन तेंदुलकर की जगह क्‍यों नहीं हुआ उनके बेटे का चुनाव 1

क्रिकेट डेस्‍क। जब से सचिन के बेटे अर्जुन का सिलेक्‍शन कमजोर प्रदर्शन के बावजूद भी जोन अंडर-16 क्रिकेट टीम में हुआ है तब से सोशल मीडिया पर धनावड़े की तस्वीर के साथ मैसेज वायरल हो रहे है। लोग सवाल कर रहे हैं कि 1000 से अधिक रन की रिकॉर्ड पारी खेलने वाले मुंबई के टीनएजर क्रिकेटर प्रणब प्रणव धनावड़े को क्‍यों टीम में शामिल नहीं किया गया। जब मामले ने मीडिया में कुछ ज्‍यादा ही तूल पकड़ लिया तो अब मुंबई के टीनएजर क्रिकेटर प्रणब प्रणव धनावड़े के पिता प्रशांत धनावड़े अपने पक्ष को रखने के लिए सबके सामने आए हैं।

उन्‍होंने मी‍डिया को बताया कि ‘जो लोग मेरे बेटे को टीम में शामिल नहीं करने पर सवाल खड़े कर रहे हैं और बेमतलब का विवाद खड़ा कर रहे हैं। सच्चाई यह है कि वेस्ट जोन अंडर-16 टीम का चयन एमसीए अंडर-16 टीम से चुना गया है। मेरा बेटा प्रणव इस टीम का सदस्य नहीं था। अर्जुन ऑल-राउंडर खिलाड़ी है। जो एमसीए टीम का हिस्सा है। इस प्रकार उसका चुनाव किया जाना उचित था।’

प्रणब के पिता ने किया खुलासा अर्जुन तेंदुलकर की जगह क्‍यों नहीं हुआ उनके बेटे का चुनाव 2

टीम का चुनाव बड़ोदरा क्रिकेट एसोसिएशन सेक्रेटरी स्‍नेहल पारिख ने 23 मई किया था। इस मीटिंग में चेयरमेंन रोकेश पारिख और चयन समीति के कोच तुसारी और भी कई लोग शामिल है । इसलिए इसे अर्जुन से जोड़ना गलत है क्‍योंकि प्रणब और उसके खेल में काफी अंतर है।

इसके साथ ही प्रणब के पिता ने कहा कि “प्रणब ने 1009 वाली पारी सिलेक्‍शन ट्रायल के बाद खेली थी इसलिए चयन पर तो कोई सवाल उठाया ही नहीं जा सकता।”

प्रशांत ने कहा कि “अर्जुन और प्रणव अच्छे दोस्त हैं और इस विवाद से दोनों की दोस्ती पर कोई असर नहीं पड़ता है। दोनों अंडर-19 कैंप में साथ-साथ खेलते हैं। अपनी प्रतिभा पर दोनों आगे बढ़ रहे हैं। अर्जुन ऑल राउंडर है जबकि प्रणव विकेटकीपर बल्लेबाज है।”

reyansh chaturvedi

A cricket enthusiast who has the passion to write for the sport. An ardent fan of the Indian Cricket Team. Strongly believe in following your passion and living in the present.