प्रवीण कुमार का बड़ा खुलासा, कर लिया था आत्महत्या का फैसला

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारतीय टीम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे इस खिलाड़ी को नहीं मिली जगह, तो बनाया आत्महत्या का मन 

भारतीय टीम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे इस खिलाड़ी को नहीं मिली जगह, तो बनाया आत्महत्या का मन

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार एक दौर में अपनी स्विंग गेंदबाजी के लिए खास स्थान बना चुके थे। प्रवीण कुमार ने भारत के लिए तीनों की फॉर्मेट में प्रतिनिधित्व किया है और शानदार प्रदर्शन भी किया लेकिन कुछ ही सालों में प्रवीण कुमार का नाम पूरी तरह से गुमनाम हो गया जिसके बाद उनकी चर्चा क्रिकेट को लेकर नहीं होती है।

अपने जीवन को लेकर प्रवीण कुमार ने किया बड़ा खुलासा

प्रवीण कुमार ने लंबे इंतजार के बाद पिछले ही सालों में अपने क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया लेकिन भारत के लिए  6 टेस्ट, 68 वनडे और 10 टी20 मैच खेलने वाले प्रवीण कुमार अपनी दूसरी तरह की बातों के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं।

भारतीय टीम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे इस खिलाड़ी को नहीं मिली जगह, तो बनाया आत्महत्या का मन 1

अपने जीवन में अब तक प्रवीण कुमार सबसे ज्यादा चर्चा में अपने व्यवहार के कारण रहे हैं जिसने उन्हें कई बार शर्मसार किया है। लेकिन इस बार तो उन्होंने अपने जीवन को लेकर ऐसा खुलासा किया है जो आपको भी हैरान कर देगा।

प्रवीण कुमार ने कर दिया था आत्महत्या का फैसला

जी हां… प्रवीण कुमार ने एक बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि एक बार उन्होंने अपने आप को खत्म करने का फैसला कर दिया था यानि उन्होंने सुसाइड के बारे में सोच लिया था।  कुछ ही महीनों पहले प्रवीण कुमार अपने परिवार को छोड़ सुसाइड करने निकल पड़े थे जिसके बाद उन्होंने अपने बच्चों के बारे में सोचकर अपने आपको ऐसा करने से रोका।

भारतीय टीम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे इस खिलाड़ी को नहीं मिली जगह, तो बनाया आत्महत्या का मन 2

इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में प्रवीण कुमार ने कहा कि “ क्या है ये सब? बस खत्म करते हैं  मेरठ में एक बार सुबह-सुबह मैं घरवालों को सोता छोड़कर बाहर निकल गया था। मेरे हाथ में पिस्टल थी और मैं गाड़ी लेकर हरिद्वार हाइवे पर निकल गया था। दरअसल मैं उस समय जीवन से इतना निराश हो गया था कि मेरे मन में ये गलत फैसला आ गया था। अंधेरी सड़क पर मैं अपनी गाड़ी में ही बैठा रहा, तब पिस्टल मेरे पास ही थी और मैं खुद को शूट करना चाह रहा था।”

आत्महत्या करने निकले, लेकिन बच्चों के बारे में सोच बदला फैसला

इसके बाद प्रवीण कुमार ने बताया कि “उस समय मेरे दिमाग में सारी बातें घूम रही थी। मैं ये मानसिक त्रास सहन नहीं कर पा रहा था। तभी मेरी नजर कार में रखी अपने बच्चों की फोटो पर पड़ी। उनके मुस्कुराते चेहरों को देखा और फिर महसूस किया कि मैं अपने मासूम बच्चों के लिए ये नहीं कर सकता। बस तभी आत्महत्या का विचार दिमाग से निकल गया और मैं घर लौट आया।”

भारतीय टीम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे इस खिलाड़ी को नहीं मिली जगह, तो बनाया आत्महत्या का मन 3

प्रवीण कुमार ने कहा” मैं इतनी अच्छी गेंदबाजी कर रहा था। इंग्लैंड में गेंदबाजी को देख हर कोई मेरी तारीफ कर रहा था। मैं  एक अच्छे टेस्ट करियर के बारे में सपना देख रहा था। अचानक सबकुछ चला गया मुझे लग रहा था कि पीके के रिटायरमेंट होने की हर कोई सोच रहा है । क्या कोई नहीं जानता कि उत्तरप्रदेश रणजी टीम के पास गेंदबाजी कोच नहीं है? मुझे टीम के साथ रहना चाहिए और यहां नहीं बैठना चाहिए।”

 

 

Related posts