पृथ्वी शॉ

भारतीय क्रिकेट के उभरते सितारे पृथ्वी शॉ को रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान शोल्डर इंजरी हो गई है. मुंबई की ओर से खेलते हुए कर्नाटक के खिलाफ मैच में फील्डिंग के दौरान ओवरथ्रो को बचाने के दौरान उन्‍हें कंधे में चोट लग गई थी. इसके बाद उन्‍होंने फील्डिंग नहीं की थी और उन्‍हें बेंगलुरु में नेशनल क्रिकेट एकेडमी भेज दिया गया. अब खबर आ रही है कि शॉ को न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट टीम में नहीं चुना जाएगा.

इंजरी के चलते हाथ भी नहीं उठा पा रहे  हैं पृथ्वी शॉ

पृथ्वी शॉ

मुंबई के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ का इंजरी से पुराना रिश्ता रहा है. अब कर्नाटक के खिलाफ खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी मैच में फील्डिंग के दौरान ओवरथ्रो को बचाने के दौरान उन्‍हें कंधे में इंजरी हो गई थी. इसके बाद वह तुरंत मैदान से बाहर चले गए और अब वह बेंगलुरु में नेशनल क्रिकेट एकेडमी भेज दिया गया. इससे पहले मुंबई टीम के मीडिया मैनेजर अजिंक्य नाइक ने कहा,

‘उन्हें (शॉ) एनसीए में बुलाया गया है. मुंबई क्रिकेट संघ को बीसीसीआई से ईमेल मिला. वह बेंगलुरु रवाना हो गए हैं. वह अपना हाथ तक नहीं उठा पा रहे हैं. उनके कंधे में दर्द है.’

न्यूजीलैंड दौरे पर नहीं चुने जाएंगे शॉ

भारतीय क्रिकेट टीम को जनवरी के आखिरी सप्ताह से न्यूजीलैंड दौरे पर जाना है. इस दौरे पर टीम इंडिया को 5 टी20, 3 वनडे और 3 टेस्ट मैच खेलने हैं. टेस्ट मैच फरवरी के आखिर में शुरु होगा. हालांकि इसके लिए टीम का पहले ही कर दिया जाएगा.

REPORTS: न्यूज़ीलैंड दौरे पर नहीं मिलेगा पृथ्वी शॉ को मौका 1

बेहतरीन फॉर्म में चल रहे शॉ का टीम में चुना जाना लगभग तय ही था लेकिन अब रिपोर्ट्स की मानें तो इंजरी के चलते उन्हें न्यूजीलैंड दौरे पर टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया जाएगा. हालांकि अभी इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

आपको बता दें, पृथ्वी शॉ को हाल ही में न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारत ए के दस्ते में नामित किया गया था. वह दोनों दस्तों का हिस्सा है, चार दिवसीय खेल और साथ ही एक दिवसीय खेल.

बैन के बाद शॉ ने की जबरदस्त वापसी

REPORTS: न्यूज़ीलैंड दौरे पर नहीं मिलेगा पृथ्वी शॉ को मौका 2

मुंबई क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ घरेलू क्रिकेट का बड़ा नाम बन चुके हैं. डोपिंग टेस्ट में फेल होने के चलते 8 महीने का लंबा बैन झेलकर क्रिकेट के मैदान पर वापस लौटे पृथ्वी शॉ ने आते ही अपने बल्ले का कमाल दिखाना शुरु कर दिया. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेले गए 5 मैचों में 3 अर्धशतकीय पारी खेली. इसके बाद रणजी टॉफी में उन्होंने वडोदरा के खिलाफ दोहरा शतक लगाते हुए अपनी काबीलियत साबित की.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बात करें तो पृथ्वी शॉ ने 2018 में भारत के लिए टेस्ट डेब्यू किया था. वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली पारी में ही उन्होंने शतक जड़ दिया. उस सीरीज में युवा खिलाड़ी को शानदार बल्लेबाजी के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड दिया गया था. उनके बाद वह चोट की वजह से ऑस्ट्रेलिया दौरे से बाहर हो गए थे.