गंभीर के फैसले से हैरान हुए रहाणे, कहा गंभीर हैं एक भावुक और अच्छे कप्तान

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

IPL 2018: गौतम गंभीर के कप्तानी छोड़ने पर पहली बार बोले अजिंक्य रहाणे, दिया बेहद ही चौकाने वाला बयान 

IPL 2018: गौतम गंभीर के कप्तानी छोड़ने पर पहली बार बोले अजिंक्य रहाणे, दिया बेहद ही चौकाने वाला बयान

आईपीएल 2018 जब से शुरू हुआ है तब से ही कुछ न कुछ नया देखने को मिल रहा है. देखा जाए तो सभी टीम काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं. फिर भी कुछ टीम ऐसी हैं जो प्रदर्शन करने के बाद बभी जीत हासिल नहीं कार पा रही हैं. इसमें से सबसे उपर नाम दिल्ली डेयरडेविल्स का. टीम ने 6 मैच खेल कर कुल 1 मैच में जीत हासिल की है.

गंभीर ने छोड़ी दिल्ली की कप्तानी 

IPL 2018: गौतम गंभीर के कप्तानी छोड़ने पर पहली बार बोले अजिंक्य रहाणे, दिया बेहद ही चौकाने वाला बयान 1

पिछले मैच टीम की कमान गौतम गंभीर के हाथों में थी. पर टीम के लगातार प्रदर्शन को देखते हुए गौतम गंभीर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान का पद छोड़ दिया है. उनके बाद टीम की कप्तान श्रेयस अइयर के हाथों आ गयी है. गौतम गंभीर के अचानक दिल्ली के कप्तानी छोड़ने ने राजस्थान रॉयल्स के कप्तान अजिंक्य रहाणे को आश्चर्यचकित कर दिया. पर रहाणे गंभीर के इस फैसले का सम्मान करते हैं.

रहाणे ने कहा, “गौतम ने टीम की जिम्मेदारी ली पर टीम परफॉर्म नहीं कर रही है.” इसी के साथ रहाणे को स्टीव स्मिथ के लिए लगता है, “अगर आपको ऐसा कुछ करने की इजाजत नहीं है जिसे आप पसंद करते हैं, तो आप कल्पना कर सकते हैं कि यह कैसा लगता होगा.” उन्होंने कहा, “हालांकि, दोनों तनाव का सामना करने के लिए काफी अनुभवी हैं और टीम इंडिया टेस्ट के उप-कप्तान को नहीं लगता कि उनके कार्य बाहरी किसी दबाव का परिणाम थे.

IPL 2018: गौतम गंभीर के कप्तानी छोड़ने पर पहली बार बोले अजिंक्य रहाणे, दिया बेहद ही चौकाने वाला बयान 2

गुरूवार को टाइम्स ऑफ इंडिया जयपुर संस्करण के अतिथि संपादक, राहणे टाइम्स ऑफ़ इंडिया के कार्यालय पहुंचे. वहां उन्होंने कई मुद्दों पर चर्चा की. उनसे इस दौरान एक सवाल पूछा गया कि क्या गौतम गंभीर का दिल्ली डेयरडेविल्स की  कप्तानी छोड़ने का उठाया गए कदम ने आपको आश्चर्यचकित कर दिया है?

इस पर रहाणे ने कहा, “जब टीम प्रदर्शन करने में विफल हो जाती है तो यह कप्तान की गलती नहीं है. कभी-कभी कुछ संयोजन काम नहीं करते हैं. यह हमेशा आपके द्वारा प्लान किये गए तरीके से काम नहीं करता है. मुझे नहीं लगता कि यह उसकी कोई गलती है कि उनकी की गयी प्लानिंग कम नहीं की. मुझे यकीन है कि जब उन्होंने दिल्ली की कप्तानी संभाली तो उनका वही उद्देश्य था जो हमारा है, यह सुनिश्चित करना कि टीम जीते. मैं उन्हें अच्छी तरह से जानता हूं और मैंने उसे बहुत लंबे समय तक भारत के लिए खेलते देखा है. वह एक भावुक खिलाड़ी और एक अच्छा कप्तान है, लेकिन हमेशा कुछ उतार-चढ़ाव होते हैं जिनका हम सभी को एक खिलाड़ी और कप्तान के रूप में सामना करना पड़ता है. लेकिन गौतम के बारे में मुझे जो पता है, उससे मैदान पर उनका रवैया वास्तव में महान है. उन्होंने टीम की जिम्मेदारी ली पर टीम परफॉर्म नहीं कर पाई, और यह वास्तव में सराहनीय है.”

Related posts

Leave a Reply