राहुल द्रविड़ ने आईपीएल फ्रेंचाइजियों को दी सलाह

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

राहुल द्रविड़ ने आईपीएल फ्रेंचाइजियों को दी घरेलू कोचों को इस्तेमाल करने की सलाह 

राहुल द्रविड़ ने आईपीएल फ्रेंचाइजियों को दी घरेलू कोचों को इस्तेमाल करने की सलाह

इंडियन प्रीमियर लीग का इंतजार हर क्रिकेट प्रेमी बेसब्री से करता है. फ्रेंचाइजियों की नजरें अब 19 दिसंबर को कोलकाता में होने वाली नीलामी पर टिकी हुई है. 13वें सीजन को जीतने के लिए कई टीमों ने अपने कोचिंग स्टाफ में बदलाव किए हैं. एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ ने हाल ही में कहा है कि सभी फ्रेंचाइजियों को विदेशी कोचों की जगह भारतीय कोचों को और कम से कम सहायक कोच के तौर पर तो प्राथमिकता देनी ही चाहिए.

हमारे पास है क्वालिटी कोच

राहुल द्रविड़ ने आईपीएल फ्रेंचाइजियों को दी घरेलू कोचों को इस्तेमाल करने की सलाह 1

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज राहुल द्रविड़ जो अंडर-19 व इंडिया के ए के कोच रह चुके हैं. वह गुरुवार को भारत और श्रीलंका के बीच खेला जा रहा अंडर-19 मैच देखने पहुंचे. इसके बाद मीडिया से आईपीएल के बारे में बात की. उन्होंने कहा,

“मेरा मानना ​​है कि हमें कुछ बहुत अच्छे कोच मिले हैं और मैं पूरी तरह से उनकी काबीलियत पर विश्वास रखता हूं. जिस तरह हमारे पास अच्छे-अच्छे क्रिकेटर्स हैं वैसे ही कई सारे अच्छे कोच भी मैजूद हैं. हमें उनपर भरोसा दिखाने और बढ़ावा देने की जरुरत है. मुझे यकीन है कि वे अच्छा करेंगे.

घरेलू कोचों का इस्तेमाल फ्रेंचाइजियों के लिए होगा फायदेमंद

राहुल द्रविड़ ने आईपीएल फ्रेंचाइजियों को दी घरेलू कोचों को इस्तेमाल करने की सलाह 2

मुख्य कोच के चयन के वक्त इस बात का जिक्र किया गया था कि रवि देशी कोचों को प्राथमिकता दी जा रही है क्योंकि वह खिलाड़ियों को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं. लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग में विदेशी कोचों को प्राथमिकता दी जाती है. इसपर राहुल द्रविड़ ने कहा,

ये मेरी पर्सनल राय है, मुझे लगता है कि बहुत सी आईपीएल फ्रेंचाइजी अपनी टीम को कोचिंग देने के लिए डोमेटस्टिक टेलेंट का इस्तेमल नहीं करती हैं. उन्हें मौका मिलना चाहिए भले ही सहायक कोच के रूप में ही मिले.

असल में घरेलू कोचों के पास जमीनी स्तर की नॉलेज होगी. साथ ही वह अपने खिलाड़ियों को बेहतर तरीके से जानेंगे व समझेंगे.

Related posts