रैना यह अनोखी उपलब्धि हासिल करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बने

क्रिकेट डेस्क। टीम इंडिया के मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाज सुरेश रैना ने श्रीलंका के खिलाफ पुणे में मंगलवार को पहले ट्‍वेंटी-20 मैच में विशेष उपलब्धि हासिल की। रैना का यह 50वां अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच है और वे यह उपलब्धि हासिल करने वाले दूसरे भारतीय तथा दुनिया के 30वें क्रिकेटर बन गए हैं।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

29 वर्षीय रैना ने अंतरराष्ट्रीय टी-20 पदार्पण 1 दिसंबर 2006 को जोहानसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ किया था। रैना दुनिया के उन चुनिंदा बल्लेबाजों में शुमार हैं, जिनके नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनों प्रारूपों में शतक लगाने की दुर्लभ उपलब्धि दर्ज है। रैना इस मैच से पहले 49 मैचों में 33.53 की औसत से 1073 रन बना चुके थे। इसमें उन्होंने 1 शतक और 3 अर्द्धशतक लगाए।

 

 

रैना से पहले 50 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेलने का श्रेय सिर्फ कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को हासिल है। धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ संपन्न सीरीज तक 55 अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 33.29 की औसत से 899 रन बनाए। दुनिया में सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेलने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी के नाम दर्ज है, जिन्होंने 90 मैच खेले हैं। इसके बाद ब्रैंडन मॅक्कुलम (न्यूजीलैंड), मोहम्मद हफीज और उमर अकमल (पाकिस्तान) ने 71-71 मैच खेले हैं।