रविंचद्रन अश्विन ने बताया जब महाराज-फिलैंडर के बीच साझेदारी देख कैसा हुआ महसूस

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रिद्धिमान साहा को बेस्ट विकेटकीपर बताते हुए रविचन्द्रन अश्विन ने वर्षो पुरानी इस धारणा को बताया झूठ 

रिद्धिमान साहा को बेस्ट विकेटकीपर बताते हुए रविचन्द्रन अश्विन ने वर्षो पुरानी इस धारणा को बताया झूठ

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेला जा रही दूसरा टेस्ट मैच बेहद रोमांचक तरीके से आगे बढ़ रहा है। पहली पारी में 601 रन पर टीम इंडिया ने पारी घोषित की। तो वहीं अफ्रीकी टीम 275 पर ही सिमट गई। इसके बाद अब कप्तान विराट कोहली ने 326 रनों की बढ़त के साथ फॉलोऑन दे दिया है। तीसरे दिन के मैच के बाद ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने बताया कि जब महाराज और फिलैंडर के बीच शतकीय साझेदारी पनप रही थी तब वह निराश नहीं हुए थे।

रिद्धिमान साहा को बेस्ट विकेटकीपर बताते हुए रविचन्द्रन अश्विन ने वर्षो पुरानी इस धारणा को बताया झूठ 1

मुझे दोबारा गेंदबाजी करने में हुई थी खुशी

रविचंद्रन अश्विन

भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने पहली पारी में 4 विकेट्स चटकाते हुए विपक्षी टीम को 275 पर ऑलआउट कराने में अहम भूमिका निभाई। अश्विन ने केशव महाराज और वर्नन फिलैंडर के बीच शतकीय साझेदारी पनप रही थी। इसपर अश्विन ने बताया-

“मैं निराश नहीं था और न ही निराश होना चाहता हूं क्योंकि मैं फिर से गेंदबाजी करने में खुश हूं। जो कोई भी फिर से बल्लेबाजी करता है, मैं उन पर गेंदबाजी करते हुए खुश हूं”।

वेस्टइंडीज के खिलाफ रविचंद्रन अश्विन को बेंच पर बैठाकर विराट कोहली ने रविंद्र जडेजा को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था। इसपर अश्विन ने कहा, लाइन और लेंथ को पढ़ना मुश्किल नहीं था।

मिथ है की निचले क्रम के बल्लेबाज नहीं कर पाते बल्लेबाजी

फिलेंडर

अश्विन ने फिलैंडर और केशव की बल्लेबाजी की तारीफ करते हुए कहा,

“मुझे लगता है कि ये एक मिथ है कि निचले क्रम के बल्लेबाज अच्छी बल्लेबाजी नहीं करते हैं। आजकल वास्तव में बल्ले के साथ ज्यादातर खिलाड़ी अच्छे हैं। हमारी टीम में भी, हर कोई नंबर 11 तक बहुत अच्छी बल्लेबाजी करता है,”।

“जैसा मैंने कहा, यह एक अच्छी पिच है और फिलेंडर ने अच्छी बल्लेबाजी की। स्पिन और तेज गेंदबाजी के लिए उनकी टैक्निक शानदार थी।”

साहा हैं बेहतरीन विकेटकीपर

रिद्धिमान साहा को बेस्ट विकेटकीपर बताते हुए रविचन्द्रन अश्विन ने वर्षो पुरानी इस धारणा को बताया झूठ 2

अश्विन ने साहा की विकेटकीपिंग की तारीफ करते हुए कहा,

“इस बात को मानना में किसी प्रकार की माथापच्ची नहीं करनी पड़ती कि साहा इस समय शानदार विकेटकीपरों में से हैं। मैंने आज उन्हें शायद ही कोई गेंद छोड़ते हुए देखा हो चाहे वो क्यों न रफ पर पड़ी हो। यह बताता है कि वह कितने अच्छे विकेटकीपर हैं। उनके पास धैर्य भी है। आप बल्ले से भी उनके रोल को नकार नहीं सकते हैं।”

Related posts