RCB

इस साल आईपीएल 2021 में भारतीय कप्तान विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम का प्रदर्शन काफ़ी बेहतर रहा है. सीज़न की शुरुआत जीत से करने वाली आरसीबी की टीम ने शुरुआत के कुछ मैचों में बेहद शानदार प्रदर्शन किया था.

लेकिन पिछले मैच में पंजाब के खिलाफ़ मिली हार के बाद इस टीम का अब आईपीएल 2021 में हार का आंकड़ा 2 हो चुका है. जिसके बाद आरसीबी (RCB) ये टीम अब प्वॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर है. इसी सिलसिले में इस आर्टिकल में हम बात करेगे उन 3 बड़ी समस्याओं के बारे में जिन पर बैंगलोर की टीम को काम करने की ज़रूरत है नहीं तो इस टीम को एक बार फिर ट्रॉफ़ी के लिए इंतज़ार की हालत से ही गुज़रना पड़ सकता है.

शीर्ष बल्लेबाज़ी क्रम में कमजोरी

RCB

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) के साथ पारी की शुरुआत करने का फ़ैसला बेशक कुछ हद तक कारगर साबित हुआ हो लेकिन शीर्ष क्रम में 3 नंबर पर आने वाले बल्लेबाज़ की समस्या अभी भी आरसीबी (RCB) के थिंक टैंक का सरदर्द बनी हुई है.

विराट और पडिक्कल की  जोड़ी के फ़ेल होने की सूरत में टीम तीसरे नंबर पर ऐसा बल्लेबाज़ नहीं स्थापित कर पाई है जो खराब शुरुआत के बाद पारी को संभाल सके. रजत पाटीदार (Rajat Patidar) भी बीते कुछ मैचों में ज़्यादा असरदार साबित नहीं हुए हैं. इस लिहाज़ से मैनेजमेंट को जल्द से जल्द ये कॉलम भरना होगा.

मध्यक्रम में ठहराव की कमी और अस्थिरता

एबी डिविलियर्स 

पिछले मैच में पंजाब किंग्स के खिलाफ़ मोगा के 25 वर्षीय युवा स्पिनर हरप्रीत ब्रार (Harpreet Brar) के सामने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मध्यक्रम को पूरी तरह एक्सपोज़ कर दिया था. मैक्सवेल (Glenn Maxwell) और डिविलियर्स (Ab de Villiers) के आउट होने के बाद कोई भी बल्लेबाज़ ऐसा नज़र नहीं आया जो एक ठहराव के साथ बल्लेबाज़ी करते हुए मैच को टीम के लिए अंत तक  ले जाए.

बीते कुछ मैचों में टीम ने मेवात के युवा ऑलराउंडर शाहबाज़ अहमद (Shahbaz Ahmad) को मौका तो दिया है लेकिन वो बल्ले से बेअसर ही साबित हुए हैं. इस लिए कप्तान कोहली और आरसीबी (RCB) टीम मैनेजमेंट को अब केरल के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज़ मोहम्मद अज़हरुद्दीन (Mohammed Azahuruddin) को भी मौका देने के बारे में सोचना चाहिए और मध्यक्रम में गहराई की इस कमी को जल्द से दूर करने के बारे में सोचना होगा.

डेथ ओवर्स में गेंदबाज़ो का बिखर जाना और रन लुटाना

IPL 2021 : प्लेऑफ़ से पहले RCB हल करे ये 3 बड़ी समस्याएं नहीं तो फिर टूट सकता है खिताब का सपना  1
Pic Credit : Royal Challengers Bangalore Instagram

अभी तक बैंगलोर (RCB) की टीम जिन 2 मैचों में हारी है उनमें डेथ ओवर्स के दौरान पूअर या कहें कि लचर गेंदबाज़ी प्रदर्शन का बड़ा रोल रहा है. मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) को छोड़ दें तो कोई भी गेंदबाज़ अंतिम ओवरों में बेहद महंगा साबित हुआ है. यही कुछ हाल पिछले मैच में पंजाब किंग्स (Punjab Kings) के खिलाफ़ भी रहा था.

पंजाब के खिलाफ़ मैच में काइल जेमिसन (Kyle Jamieson) , युज़वेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) और हर्षल पटेल (Harshal Patel) ने 8 से भी ज़्यादा के इकोनॉमी रेट से काफ़ी ज़्यादा रन लुटाए थे. इसी सिलसिले में आरसीबी (RCB) टीम मैनेजमेंट को अगले मैचों में इस समस्या से छुटकारा पाना होगा नहीं तो खिताब जीतने की राह में ये भी एक रोड़ा बन सकता है.

Umesh Sharma

Everything under the sun can be expressed in written form. So, I am practicing the same since the time I hold my consciousness and came to know pen and paper. Apart from being Writer, Journalist or...