एबी डिविलियर्स

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले गए 33वें मुकाबले में राजस्थान ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया और आरसीबी को 178 रनों का लक्ष्य दिया। इस मुश्किल लक्ष्य का पीछा करने उतरी आरसीबी ने 3 विकेट के नुकसान पर लक्ष्य को हासिल कर लिया और 7 विकेट से एक शानदार जीत दर्ज की।

एबी डिविलर्स ने दिलाई आरसीबी को जीत

विराट कोहली

राजस्थान रॉयल्स ने दुबई के मैदान पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 178 रनों का लक्ष्य खड़ा किया। जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी आरसीबी की टीम ने 14वें ओवर तक पहुंचते-पहुंचते अपने 3 बल्लेबाजों को खो दिया।

जिसके बाद आरसीबी की जीत की गुंजाइश कम लग रही थी, लेकिन फिर क्रीज पर आए एबी डिविलियर्स और गुरकीरतमान ने टीम के लिए विनिंग रन बनाए। डिविलियर्स ने सिर्फ 22 गेंदों पर 55 रनों की आतिशी पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया।

RCBvsRR: विराट कोहली ने एबी डिविलियर्स सहित इस खिलाड़ी को दिया जीत का श्रेय 1

गुरकीरतमान को भी जाता है जीत का श्रेय

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के विकेटकीपर-बल्लेबाज एबी डिविलियर्स शानदार फॉर्म में हैं। वह लगातार अपनी टीम के लिए नंबर-4 पर खेलते हुए रन बना रहे हैं। एक बार फिर डिविलियर्स ने अकेले के दम पर आरसीबी को टूर्नामेंट में जीत दिलाई। मैच जिताऊ पारी खेलने वाले डिविलियर्स की जमकर तारीफ की। साथ ही उन्होंने गुरकीरतमान को भी इस जीत का श्रेय देते हुए कहा,

‘आप जब लक्ष्य का पीछा करते हो तो हमेशा दबाव में रहते हो क्योंकि आपको नहीं पता कि डिविलियर्स कितनी गेंदे खेंलेंगे। इसका श्रेय गुरकीरत मान को भी जाता है जो डिविलियर्स के साथ टिके रहे।’

डिविलियर्स को नहीं पड़ता है गेंदबाज से कोई फर्क

एबी डिविलियर्स

एबी डिविलियर्स ने इस मुकाबले में जीत दिलाने के लिए राजस्थान के गेंदबाजों की जमकर पिटाई की। विराट सेना को मिली जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने एबी डिविलियर्स की काबिलियत के बारे में बात करते हुए कहा,

‘डिविलियर्स को फर्क नहीं पड़ता की सामने गेंदबाज कौन है। वह हमेशा वही करते हैं जो वो करना जानते हैं। डिविलियर्स उस तरह के बल्लेबाज हैं जो स्थिति के देखते हैं और उसके हिसाब से खेल को बदलते हैं। मेरी नजरों में वो आईपीएल के सबसे प्रभावशाली खिलाड़ी हैं। अगर वह चलते हैं तो विपक्षी टीम जानती है कि उनकी संभावना कम है।’