चेतेश्वर पुजारा

चीन से दस्तक देने वाले कोरोना वायरस ने अब तो पूरे जगत में पूरी तरह से अपने पांव पसार लिए हैं। कोरोना वायरस धीरे-धीरे बहुत ही खतरनाक होता जा रहा है जिसके बाद तो अब दुनियाभर के लोगों में खौफ का माहौल है। कोरोना का कहर अब पूरी तरह से अपने चरम पर है जो लगातार लोगों को अपने आगोश में लेता जा रहा है।

कोरोना के कहर के बाद क्रिकेट प्रतियोगिता होती जा रही है रद्द

कोरोना वायरस के कहर ने क्रिकेट के गलियारों में भी हलचल मचानी शुरू कर दी है जिसके बाद तो अब आने वाले दिनों में होने वाली क्रिकेट प्रतियोगिताओं में एक के बाद एक रोकने का फैसला किया जा रहा है।

कोरोना के कहर का असर रणजी ट्रॉफी फाइनल पर, अंतिम दिन बंद दरवाजों में खेला जाएगा मैच 1

नेपाल में इस बार होने वाली एवरेस्ट प्रीमियर लीग को स्थगित करने का फैसला किया है तो साथ ही दूसरी तरफ बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के द्वारा आयोजित होने वाली टी20 सीरीज एशिया इलेवन और वर्ल्ड इलेवन को भी फिलहाल के लिए रद्द कर दिया गया है।

रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच के अंतिम दिन नहीं मिलेगी दर्शकों को अनुमति

कोरोना के वायरस COVID-19 के डर से तो आईसीएल फुटबॉल लीग का फाइनल मैच आयोजन कमेटी ने बिना किसी दर्शकों के कराने का फैसला किया है तो उसी तरह से अब बीसीसीआई ने भी गुरुवार को बड़ा फैसला लेते हुए रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच के शुक्रवार को होने वाले पांचवें और अंतिम दिन दर्शकों की अनुमति पर रोक लगा दी है।

कोरोना वायरस

सौराष्ट्र और बंगाल के बीच रणजी ट्रॉफी 2019-20 का फाइनल मैच राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन मैदान मेंं खेला जा रहा है। इस मैच के पांचवें दिन का ही खेल बचा है जहां पर बीसीसीआई ने साफतौर पर आदेश दिया है कि कोरोना के कहर के कारण वहां किसी भी दर्शक को अनुमति नहीं दी जाए।

अंतिम दिन मैच से जुड़े लोगों के ही मिलेगी अनुमति

रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले के अंतिम दिन का खेल अब बंद दरवाजों के बीच खेला जाएगा जहां पर दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों के साथ ही दोनों टीमों के अधिकारियों और इसके अलावा स्टेडियम से जुड़े लोगों के लिए ही अनुमति रहेगी।

हरभजन सिंह

पीटीआई के हवाले से बीसीसीआई के घरेलू क्रिकेट के महाप्रबंधक सबा करीम ने कहा कि अंतिम दिन किसी भी सार्वजनिक को अनुमति नहीं जी जाएगी। केवल खिलाड़ियों, मैच अधिकारियों और मीडियो को ही अनुमति दी जाएगी।