कमेंट्री पैनल से फिकवा दिया बाहर ऐसे में विराट कोहली और हर्षा भोगले कैसे "अच्छे दोस्त" | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कमेंट्री पैनल से फिकवा दिया बाहर ऐसे में विराट कोहली और हर्षा भोगले कैसे “अच्छे दोस्त” 

कमेंट्री पैनल से फिकवा दिया बाहर ऐसे में विराट कोहली और हर्षा भोगले कैसे “अच्छे दोस्त”

हर्षा भोगले… ये वो शख्सियत है जिन्हे भारतीय क्रिकेट की आवाज कहा जाता है, लेकिन शायद बीसीसीआई इस बात को जानकर भी अनजान बना हुआ है । साथ ही टीम इंडिया के सीनियर खिलाड़ियों के द्वारा की जा रही अनदेखी भी इस क्रिकेट की आवाज कहे जाने वाले हर्षा भोगले की ऑस्ट्रेलिया से होने वाली टेस्ट सीरीज में कमेंट्री टीम में नहीं चुने जाने के लिए काफी है विराट कोहली की कप्तानी में ये 5 सीनियर खिलाड़ी सिमित ओवर फॉर्मेट में कर सकते है वापसी

अपनी आवाज और क्रिकेट के गजब के प्रिडिक्शन से क्रिकेट प्रेमियों का मन मोह लेने वाले हर्षा को एक बार कंमेट्री के लिए नजर अंदाज कर दिया है, यहां दोस्त कहे जाने वाले कप्तान कोहली ने भी भोगले का साथ नहीं दिया। ऐसे में सही को सही कहने वाले भोगले की कमेंट्री कोहली को भी पसंद नहीं आ रही है। इसी कारण कोहली ने हर्षा का साथ नहीं दिया

दरअसल भोगले की बीसीसीआई ने पिछले साल टी-20 विश्वकप के बाद से ही छुट्टी कर दी है और आईपीएल 9 में भी बाहर ही रखा, आपको बता दें कि पिछले साल टी-20 विश्वकप के दौरान टीम इंडिया के बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मैच में हर्षा भोगले ने बांग्लादेशी खिलाड़ियो के अच्छे प्रदर्शन की तारीफ कर दी थी। जिसके बाद बॉलीवुड सुपर स्टार अमिताभ बच्चन ने भोगले को ट्वीट करके बांग्लादेशी खिलाड़ियो की तारीफ करने के लिए उनकी आलोचना की जिसके बाद उसी पर रिट्वीट उस समय के टीम इंडिया के कप्तान धोनी ने भी भोगले की आलोचना की इस वाक्ये के बाद बीसीसीआई ने हर्षा भोगले को आईपीएल और आगे के भारत के मैचों से कमेंट्री के लिए हटा दिया हर्षा भोगले ने घोषित किया 2016 की सर्वश्रेष्ठ टीम, कोहली और धोनी दोनों को नहीं मिली कप्तानी

जिसके बाद हर्षा भोगले ने अपने निष्कासन के लिए सीनियर खिलाड़ियों का हाथ होना भी बताया था। जिसमे धोनी के अलावा  विराट कोहली और साथ ही और भी कई नामी खिलाड़ियों का इसमें involve होना बताया था।

इसी लिए भोगले ने एक इंटरव्यू में वर्तमान टीम इंडिया में एक भी दोस्त नही होना बताया। वैसे बीसीसीआई में बैठे आकाओं ने और साथ ही टीम इंडिया के खिलाड़ियो ने इस जबरदस्त कमेंटटेटर की कद्र तो बिलकुल भी नहीं की जिसके वो हकदार हैं।

और हर्षा भोगले की माने तो ये भारतीय टीम अपनी आलोचना सुन नहीं सकती और एक वो टीम थी जिसमे सचिन, सौरव, द्रविड़, लक्ष्मण और कुंबले खेलते थे जो सही आलोचना करने पर कभी भी कमेंट नही किया करते थे ।

Related posts