Rishabh Pant

भारत के महान क्रिकेटर्स में शुमार सुनील गावस्कर ने टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की आईपीएल 2021 के दौरान की गई कप्तानी को लेकर बड़ा बयान दिया है. जिसमें उन्होनें पंत की कप्तानी में बड़ी बारिकी के साथ खामियां और अच्छाईयों को एक दम स्पष्ट किया.

गावस्कर ने अपने इस बयान को ‘स्‍पोर्ट्स्‍टार’ में अपने कॉलम पर लिख कर लोगों के साथ शेयर किया, जिसे देखने के बाद इतना यकिन हो गया है कि पंत अपने खेल से भारतीय क्रिकेट के लीजेंड द सुनील गावस्कर को बहुत प्रभावित कर दिया है. इसी सिलसिले में हम इस आर्टिकल में बात करेंगे और जानेंगें कि इस पूरे बयान में उन्होनें पंत के लिए क्या लिखा है..

पंत में है सीखने की भुख- सुनील गावस्कर

सुनील गावस्कर

सुनील गावस्कर को भारतीय टीम का लीडर भी कहा जाता है और उन्होनें इस रोल को बखुबी निभाते हुए भारत के उभरते खिलाड़ी ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के टैलेंट को पहचानते हुए पंत के भविष्य पर कहा..

“भारतीय टीम के पास भवविष्य में Rishabh Pant जैसा चतुर खिलाड़ी मौजूद है. जिस तरह उन्होनें आईपीएल के इस सीजन में दिल्ली कैपिटल्स के लिए कप्तानी करते हुए शानदार प्रदर्शन किया, छठे मैच तक हर कोई देख सकता था कि पंत अब अपने कप्‍तानी से संबंधित सवाल पर थके हुए नजर आते थे. मैच के बाद प्रत्‍येक प्रजेंटेटर ने उनसे एक ही तरह के सवाल किए. उन्‍होंने जो दिखाया वो चिंगारी है तो आगे चलकर दहाड़ में तब्‍दील हो सकती है, अगर उन्‍हें जिम्मेदारी मिली तो, क्योंकि उसमें सीखनें की भुख है”

सुनील गावस्कर ने आगे कहा कि

“हां, उसने गलतियां की, कौनसा कप्‍तान नहीं करता ?”

ऐसा रहा Rishabh Pant का कप्तानी प्रदर्शन

सुनील गावस्कर को इस भारतीय खिलाड़ी में दिखता है भविष्य का कप्तान 1

आईपीएल 2021 में श्रेयस अय्यर की गैरमौजूदगी में दिल्ली कैपिटल्स की कमान संभालने वाले ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अपनी इस कप्तानी से न केवल दिल्ली की टीम को ही बल्कि कई पूर्व खिलाड़ियों को भी प्रभावित किया है. जिसके बाद ऋषभ अपनी कप्तानी को लेकर आईपीएल के बाद भी लगातार सुर्खियां बटोर रहे हैं.

आपको बता दें कि, दिल्ली आईपीएल के इस सीजन के स्थगित होने तक प्वाइंट्स टेबल में 8 मैचों में से 6 मैच जीतनें के बाद शीर्ष पर काबिज़ थी, और जिस तरह इस सीजन में दिल्ली सकारात्मक गेम प्लेन के साथ मैदान पर उतर रही थी वहीं उनकी इस सफलता का कारण भी था.