किरन मोरे के साथ विकेटकीपिंग में इन कमियों पर काम कर रहे ऋषभ पन्त

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

टेस्ट टीम से बाहर होने के बाद किरण मोरे के साथ इन कमियों पर काम कर रहे हैं ऋषभ पंत 

टेस्ट टीम से बाहर होने के बाद किरण मोरे के साथ इन कमियों पर काम कर रहे हैं ऋषभ पंत

ऋषभ पन्त को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में खेलने का मौका नहीं मिला है। वह इंग्लैंड के पिछले दौरे के तीसरे टेस्ट मैच से लगातार भारतीय टीम के प्रमुख विकेटकीपर थे। हालाँकि, इसके बावजूद उनकी कीपिंग पर अभी भी सवाल बने हुए हैं और स्पिन के खिलाफ रिद्धिमान साहा उन्हें कहीं बेहतर कीपिंग हैं। इसी वजह से इस मैच साहा को करीब 21 महीने बाद भारत के लिए खेलने का मौका मिला है।

थोड़ा और बेहतर होना पड़ेगा

टेस्ट टीम से बाहर होने के बाद किरण मोरे के साथ इन कमियों पर काम कर रहे हैं ऋषभ पंत 1

वेस्टइंडीज में हुई सीरीज में ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा दोनों टीम का हिस्सा थे लेकिन साहा को खेलने का मौका नहीं मिला। भारतीय परिस्थिति में टीम मैनेजेमेंट मानती है कि पन्त को थोड़ा और बेहतर होने की जरूरत है। आईएएनएस से बात करते हुए टीम मैनेजमेंट के सूत्र ने कहा

“टीम मैनेजेमेंट के फैसले में कुछ समझने सोचने लायक नहीं है। टीम को लगता है कि लाल गेंद क्रिकेट में भारतीय परिस्थितियों  में पंत को अपने कौशल को थोड़ा सुधारने की ज़रूरत है। इसी वजह से वह मोरे के साथ काम कर रहे हैं।”

किरन मोरे ने भी दिया बयान

टेस्ट टीम से बाहर होने के बाद किरण मोरे के साथ इन कमियों पर काम कर रहे हैं ऋषभ पंत 2

भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर किरन मोरे ने भी इस बात की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि यह आधिकारिक तौर पर नहीं हो रहा है लेकिन वह ऋषभ पन्त की मदद कर रहे हैं। उन्होंने आईएएनएस से कहा

“हमने कोई शेड्यूल नहीं बनाया है और यह आधिकारिक भी नहीं है। वह अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और मुझे काफी सुधार नजर आ रहा है। उन्हें 11 टेस्ट मैचों में 53 शिकार किये हैं और यह प्रति मैच 5 होता है। हर दिन आप खेलते हैं, हर दिन आप बढ़ते हैं। मूल बातें बहुत महत्वपूर्ण हैं और वह उस पर काम कर रहे हैं।”

इन पर कर रहे काम

टेस्ट टीम से बाहर होने के बाद किरण मोरे के साथ इन कमियों पर काम कर रहे हैं ऋषभ पंत 3

किरन मोरे ने बताया कि ऋषभ पन्त के साथ वह हाथ की स्थिति और संतुलन बनाने पर सबसे ज्यादा काम कर रहे हैं। पन्त स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ कीपिंग करने में जूझते रहते हैं। पूर्व विकेटकीपर ने आगे कहा

“हमने उनके संतुलन और उनके हाथ की स्थिति पर काम किया है, क्योंकि उनके पास बेहतरीन क्रिकेटिंग दिमाग है और चीजों को बहुत जल्दी समझते हैं। हमने छोटे बारीकियों पर काम किया है। हाथ और शरीर की स्थिति बहुत महत्वपूर्ण है और इसमें समय लगता है। अनुभव के साथ आप सीखते हैं।”

Related posts