Rohan Patil
Rohan Patil

टी20 क्रिकेट का खुमार हर जगह ही फैला हुआ है और आईपीएल को देखते हुए न जाने कितने नए लीग शुरू हो चुके हैं। भारत में ही देख लें, हर राज्य में अलग-अलग टी20 लीग खेला जा रहा है और हाल ही में कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ की महाराजा टी20 लीग में 20 वर्षीय बल्लेबाज रोहन पाटिल (Rohan Patil) ने अपने बल्ले से कुछ ऐसा कर दिखाया जो इंटरनेशनल खिलाड़ी भी नहीं कर पाये होंगे।

20 वर्षीय बल्लेबाज ने किया कमाल

Rohan Patil
Rohan Patil

कर्नाटक के महाराजा टी20 लीग में गुलबर्गा मिस्टीक्स और मैसूर वॉरियर्स के बीच खेले गये मुकाबले में मैसूर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 19 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 164 रन बनाये थे। मैसूर की तरफ से सबसे ज्यादा पवन देशपांडे ने 41 रन की पारी खेली तो वहीं कप्तान करुण नायर कुछ ज्यादा प्रभाव छोड़ने में कामयाब नहीं हो पाये।

इस स्कोर का पीछा करते हुए गुलबर्गा के 20 वर्षीय बल्लेबाज रोहन पाटिल (Rohan Patil) मानों एक अलग ही अंदाज में थे। हालांकि लक्ष्य ज्यादा मुश्किल नहीं था, लेकिन आसान भी नहीं था। गुलबर्गा के बल्लेबाजों ने धुंआधार पारी की शुरूआत करते हुए 4 ही ओवर में 50 रन कूट दिये। बता दें कि इस दौरान टीम के युवा बल्लेबाज रोहन पाटिल (Rohan Patil) ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे थे।

मैसूर के गेंदबाजों की उड़ाई धज्जियां

Rohan Patil
Rohan Patil

महज 20 वर्ष के रोहन पाटिल (Rohan Patil) गुलबर्गा की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए मैसूर के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाते हुए 42 गेंदों में ही आतिशी शतक जड़ दिया। इस दौरान उनके साथी खिलाड़ी कृष्णन श्रीजित ने उनका बखुबी साथ निभाया। दोनों ही बल्लेबाजों ने 63 गेंदों में 113 रन बना डाले। बता दें कि रोहन पाटिल (Rohan Patil) अपनी पारी में 86 रन तो सिर्फ 18 गेंदों में चौके-छक्के से ही बटोर लिये। उनके बल्ले से कुल 11 चौके और 7 छक्के निकले थे।

14वें ओवर दर्ज की जीत

Rohan Patil
Rohan Patil

जहां एक तरफ रोहन पाटिल (Rohan Patil) ने महज 42 गेंदों में ही शतकीय पारी खेली तो वहीं कृष्णन श्रीजित 29 गेंदों में 46 रन बनाये। दोनों की विस्फोटक बल्लेबाजी के सामने मैसूर के गेंदबाज पस्त दिखे। उनकी शानदार बल्लेबाजी के दम पर ही गुलबर्गा 14.1 ओवर में ही 9 विकेट के रहते जीत दर्ज करने में कामयाब रही।