माइकल क्लार्क ने दिया बड़ा बयान कहा विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा करें टेस्ट की कप्तानी 1

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच 17 दिसंबर शुरु होने वाली टेस्ट सीरीज़ में पहले मैच के बाद विराट की गैरमौजूदगी को टीम के लिए एक बड़ा नुकसान बताया है. इसमें उन्होंने विराट के कप्तान और खिलाड़ी के तौर पर पड़ने वाले प्रभाव का भी ज़िक्र किया. इसके अलावा, क्लार्क ने ये भी कहा कि भारतीय टीम के पास वो योग्यता है कि वो विराट की गैरमौजूदगी में अपने खेल का गियर बदलें और बेहतर डिलीवर करे.

रोहित का किया समर्थन

रोहित शर्मा

इंडिया टुडे को दिए गए एक इंटरव्यू में पूर्व कंगारू कप्तान ने कहा कि

“अगर मेरी राय माँगी जाए तो मैं विराट की गैरमौजूदगी में टीम का नेतृत्व करने के लिए मैं रोहित शर्मा का समर्थन करूंगा. अगर मैं रोहित को खेलने के लिए टीम में चुनता तो मेरी पूरी कोशिश यही होती कि रोहित शर्मा फ़िट हो सकें और इसके लिए मैं अपनी क्षमता में जो बन पड़ता वो बिल्कुल करता.”

गौरतलब है कि विराट कोहली एडिलेड में होने वाले पहले टेस्ट के बाद पारिवारिक कारणों से भारत वापस चले जाएंगे.

कहीं तो हुई है चूक

रोहित शर्मा

विराट की गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे अगले तीन टेस्ट में भारतीय टीम की कमान संभालेंगे. पहले दो टेस्ट में रोहित शर्मा के खेलने पर भी संदेह है. उनकी चोट को लेकर पैदा हुए संशय में विराट कोहली के बयान के बाद बीसीसीआई ने पूरे कंफ़्यूज़न को ये कहते हुए क्लीयर किया कि 11 दिसंबर को रोहित शर्मा की फ़िटनेस का आकलन किया जाएगा. क्लार्क ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि

“अगर मुझे ये जानते हुए टीम चुनने को कहा जाता कि ऑस्ट्रेलिया में जाने के बाद विराट वापस आ जाएंगे तो मैं सबसे पहले रोहित शर्मा को ही चुनता.”

इस बयान से कहीं न कहीं भारतीय टीम प्रबंधन की निर्णय प्रक्रिया पर भी क्लार्क ने सवाल खड़े किए हैं, और क्रिकेट की समझ तो यही कहती है कि एक विश्व-कप विजेता कप्तान के बयान को गंभीरता से लेना चाहिए.