रोहित शर्मा ने बताया, क्यों टी-20 में युवाओं को मिल रहा मौका

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

कप्तान रोहित शर्मा ने बताया कैसे मजबूत हो सकती है भारत के वनडे और टेस्ट की बेंच स्ट्रेंथ 

कप्तान रोहित शर्मा ने बताया कैसे मजबूत हो सकती है भारत के वनडे और टेस्ट की बेंच स्ट्रेंथ

भारतीय टीम अनुभवी खिलाड़ियों को आराम देकर टी-20 क्रिकेट में युवा खिलाड़ियों को मौका दे रही है। विश्व कप के बाद वेस्टइंडीज में हुई सीरीज में कई नये खिलाड़ियों को शामिल किया गया। नवदीप सैनी और राहुल चाहर ने डेब्यू किया वहीं दीपक चाहर की भी आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद लंबे समय बाद भारत के लिए खेलने का मौका मिला।

रोहित शर्मा ने बताई वजह

शिवम दुबे

बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज में रोहित शर्मा भारत के कप्तान हैं। रोहित ने टी-20 क्रिकेट में युवा खिलाड़ियों को लगातार मिल रहे मौके की वजह बताई। दूसरे मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा

“हम बहुत सारे खिलाड़ियों को अन्य फॉर्मेट के लिए तैयार करने की कोशिश करना चाहते हैं। क्योंकि यह ऐसा फॉर्मेट है जहां ये खिलाड़ी को खुलकर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलता है ताकि वे एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट के लिए तैयार हों।”

कई खिलाड़ी निकल कर आये

युजवेंद्र चहल

भारतीय टीम को कई खिलाड़ी टी-20 में बेहतर प्रदर्शन के कारण ही मिले हैं। हार्दिक पांड्या और युजवेंद्र चहल इसके बड़े उदाहरण हैं। रोहित शर्मा ने आगे बात करते हुए कहाँ

“हमने देखा है कि कई खिलाड़ी इस फॉर्मेट से आगे आये हैं। लेकिन अभी भी मैच जीतना हमारे लिए सबसे बड़ी प्राथमिकता है।”

अगले साल टी-20 विश्व कप

टी-20 विश्व कप

अगले साल अक्टूबर-नवंबर में टी-20 विश्व कप खेला जाने वाला है। भारत ने 2007 में हुए पहले विश्व कप को अपने नाम किया था लेकिन उसके बाद से विजेता नहीं बन पाई है। उस विश्व कप से पहले टीम ने सिर्फ एक ही टी-20 मैच खेला था लेकिन युवाओं से भरी भारतीय टीम ने निर्भीक क्रिकेट खेला और विजेता बनी।

विश्व कप की विजेता टीम से सिर्फ रोहित शर्मा ही वर्तमान में टीम में बने हुए हैं। हालाँकि, कई खिलाड़ियों ने अभी तक संन्यास नहीं लिया है लेकिन टीम से बाहर चल रहे हैं। भारतीय टीम ने उस समय से अभी तक टी-20 क्रिकेट में खेलने के तरीके में काफी बदलाव किया है और यही वजह है कि टीम ज्यादा सफल नहीं हो रही है।

Related posts