रोहित शर्मा या पृथ्वी तोड़ सकते हैं400 रन वाला रिकॉर्ड: लारा

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

ब्रायन लारा ने कहा, ये 2 भारतीय बल्लेबाज तोड़ सकते हैं मेरा 400 रनों का रिकॉर्ड 

ब्रायन लारा ने कहा, ये 2 भारतीय बल्लेबाज तोड़ सकते हैं मेरा 400 रनों का रिकॉर्ड

पाकिस्तान के खिलाफ एडीलेट टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने नाबाद 334 रनों की तूफानी पारी खेली. लेकिन बारिश की आशंका के चलते ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने 589 रन पर पारी घोषित कर दी थी और वॉर्नर, ब्रायन लारा के 400 रनों वाला रिकॉर्ड तोड़ने से चूक गई थे. हालांकि अब दिग्गज लारा ने 2 भारतीय बल्लेबाजों का नाम लेते हुए कहा है कि वह उनका एक पारी में 400 टेस्ट रनों का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं.

रोहित शर्मा-पृथ्वी शॉ तोड़ सकते हैं मेरा रिकॉर्ड

रोहित शर्मा

टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में 400 रन बनाने का एक महान रिकॉर्ड वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के दिग्गज ब्रायन लारा के नाम है. आज तक कोई भी खिलाड़ी इस रिकॉर्ड को नहीं तोड़ सका है. हाल ही में डेविड वॉर्नर इसके नजदीक तो आए लेकिन वह इस रिकॉर्ड को तोड़ने में नाकामियाब रहे. हालांकि अब लारा ने अपने इस विशाल रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए 2 बल्लेबाजों का नाम लेते हुए कहा,

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और पृथ्वी शॉ मेरा रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं. हालांकि शॉ के पास अभी काफी वक्त है. लेकिन रोहित शर्मा का प्रदर्शन देखकर आप आश्चर्यचकित हो सकते हैं कि क्या वह अभी भी एक टेस्ट क्रिकेटर है या नहीं, रोहित ने अभी भारत के लिए पारी की शुरुआत की है. अगर वह एक अच्छे दिन पर एक अच्छी पिच पर जाते हैं, तो वह ऐसा कर सकते हैं.

रोहित शर्मा ने की विस्फोटक शुरुआत

रोहित शर्मा

सीमित ओवर क्रिकेट में अपनी बल्लेबाजी का लोहा मनवा चुके रोहित शर्मा ने टेस्ट में ओपनिंग करते ही अपने पैर जमा लिए. साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में ओपनिंग करते हुए रोहित ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पहले मैच की दोनों पारियों में शतक लगाया. सीरीज के तीसरे मैच में बेहतरीन फॉर्म जारी रखते हुए बल्लेबाज ने दोहरा शतक लगाया. वाकई वनडे और टी20 की ही तरह अब रोहित टेस्ट में भी अपने नाम का लोहा मनवा रहे हैं.

पृथ्वी शॉ ने बैन से वापसी करते ही जड़ा अर्धशतक

सैयद अली मुश्ताक़

डोपिंग टेस्ट में फेल होने के बाद बीसीसीआई द्वारा पृथ्वी शॉ पर 9 महीने का बैन झेलकर टीम क्रिकेट मैदान पर लौटे पृथ्वी शॉ अपने रंग में नजर आए. उन्होंने सैयद अली मुश्ताक ट्रॉफी में अपनी घरेलू टीम मुंबई से जुड़ते हुए असम के खिलाफ अर्धशतकीय पारी खेलकर साबित कर दिया कि बैन के बाद भी उनके फॉर्म पर कोई फर्क नहीं पड़ा है. सैयद अली मुश्ताक में खेलते हुए शॉ ने 5 मैचों में 3 अर्धशतक लगाए.

Related posts