रोहित शर्मा और कोहली ने आईसीसी अवार्ड्स को लेकर कही ये बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

खेल भावना के लिए विराट कोहली को मिला सम्मान तो खुद हुए हैरान, रोहित शर्मा ने कही ये बात 

खेल भावना के लिए विराट कोहली को मिला सम्मान तो खुद हुए हैरान, रोहित शर्मा ने कही ये बात

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और सीमित ओवर के उपकप्तान रोहित शर्मा ने पिछले साल अपने जबरदस्त खेल से पूरे क्रिकेट जगत को मंत्रमुग्ध कर दिया। भारतीय टीम के इन दो बल्लेबाजों ने पूरे साल अपने बल्ले का जादू दिखाया और अपने शानदार खेल के दम पर खुद को विश्व क्रिकेट में सबसे आगे रखा।

रोहित शर्मा और विराट कोहली की आईसीसी अवार्ड्स में धूम

साल 2019 के खत्म होने तक तो इन बल्लेबाजों ने पूरे साल में अपने प्रदर्शन को खास शिखर पर पहुंचाया। रोहित शर्मा और विराट कोहली की इन कमाल की बल्लेबाजी के कारण आईसीसी ने अपने सलाना अवार्ड से नवाजा है।

खेल भावना के लिए विराट कोहली को मिला सम्मान तो खुद हुए हैरान, रोहित शर्मा ने कही ये बात 1

जहां सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को आईसीसी ने साल 2019 का आईसीसी वनडे क्रिकेट ऑफ द ईयर के रूप में चुना तो वहीं विराट कोहली को तो आईसीसी के कई अवार्ड्स से पुरस्कृत किया गया। जिसमें उन्हें स्पिरिट ऑफ द ईयर, के साथ ही वनडे और टेस्ट कैप्टन ऑफ द ईयर भी चुना गया।

रोहित शर्मा ने जताया आईसीसी और बीसीसीआई का धन्यवाद

आईसीसी के द्वारा इन प्रतिष्ठित पुरस्कारों को जीतने के बाद रोहित शर्मा और विराट कोहली दोनों ने ही बीसीसीआई टीवी को इंटरव्यू दिया और इस बारे में अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की।

आईसीसी वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर बनने वाले रोहित शर्मा ने कहा कि “आईसीसी और बीसीसीआई को धन्यवाद । पहले तो आईसीसी तो इसलिए धन्यवाद कि उन्होंने मुझे इस अवार्ड के लिए समझा बीसीसीआई को भी जाहिर तौर पर कि उन्होंने मुझे देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया।”

“मैंने जिस तरह से टीम के लिए 2019 में प्रदर्शन किया उससे बहुत ही खुश हूं।हम और भी अच्छा कर सकते थे लेकिन हम 2019 में पूरी तरह से सकारात्मक रहे। हम चाहते हैं कि इसे बरकरार रखे और आने वाले समय भी इसी तरह से करते रहे। फिर से धन्यवाद”

विराट कोहली को स्पिरिट क्रिकेट अवार्ड चुने जाने पर हो रही है हैरानी

वहीं इसके बाद विराट कोहली ने अपनी बात रखते हुए स्पिरिट क्रिकेट अवार्ड के रूप में चुना जाने पर हैरानी जतायी और कहा कि “मैं इसे हासिल करने के बाद थोड़ा हैरान हूं। क्योंकि पिछले कुछ साल से मुझे इसके लिए सही नहीं माना जाता था लेकिन ये तो खिलाड़ियों का हिस्सा है। मुझे नहीं लगता कि कोई खिलाड़ी इस तरह की स्थिति में खुद को लाना चाहता है। वो तो केवल एडमांटेज लेना चाहते हैं। मुझे लगता है कि स्लेज और  आप विरोधी टीम को लेकर क्या सोचते हैं। बस आप तो विरोधी टीम को हराना ही चाहते हैं।

“मुझे नहीं लगता है कि किसी का अभिवादन करना खेल की आत्मा के साथ नहीं होता है। ये किसी भी हमारे फैंस के दिनों में ऐसा नहीं होना चाहिए। हम क्रिकेटिंग देश के रूप में कहां खड़े हैं ये ध्यान में रहता है। तो मुझे लगता है हमें सभी को ये जिम्मेदारी लेनी होगी।”

Related posts