//

IND VS WI- इस वजह से टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट में नहीं दी प्लेइंग इलेवन में जगह

भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जा रही 2 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए 318 रनों से जीत हासिल करने के साथ ही सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। टीम के प्रदर्शन से तो हर कोई बड़ा ही खुश दिख रहा है लेकिन इस मैच में एक बार फैंस को नहीं पची वो है रोहित शर्मा को प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं मिलना….

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

रोहित शर्मा को वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में नहीं दिया गया मौका

जिस तरह से भारतीय टीम के सीमित ओवर के उपकप्तान रोहित शर्मा ने विश्व कप में जबरदस्त प्रदर्शन किया था, उसी के कारण उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट स्क्वॉड में जगह मिली और हर किसी को उम्मीद थी, कि रोहित को प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका मिलेगा।

IND VS WI- इस वजह से टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट में नहीं दी प्लेइंग इलेवन में जगह 1

लेकिन एंटिगुआ में खेले गए पहले टेस्ट मैच के लिए जैसे ही प्लेइंग इलेवन सबके सामने आयी उसमें रोहित शर्मा का नाम ना देखकर हर किसी को हैरानी हुई और रोहित को ना लेने की कड़ी आलोचना की गई।

टीम मैनेजमेंट ने रोहित की जगह पर छठे बल्लेबाज के लिए चुना हनुमा विहारी को

मौजूदा भारतीय टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में शामिल रोहित को प्लेइंग इलेवन में मौका देने की उम्मीद हर कोई कर रहा था लेकिन कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में हनुमा विहारी को मौका दिया।

IND VS WI- इस वजह से टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट में नहीं दी प्लेइंग इलेवन में जगह 2

टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट मैच की अंतिम एकादश में मौका क्यों नहीं दिया ये हर किसी को बहुत ही खटका तभी तो इस फैसले की जमकर आलोचना भी हुई लेकिन क्या आपको बता है कि रोहित को मौका क्यों नहीं मिला?

टीम मैनेजमेंट चाहता है किसी खिलाड़ी को साबित करने का मिले पूरा मौका

भले ही रोहित शर्मा को छठे स्ठान पर बल्लेबाजी के लिए सही विकल्प माना जा रहा था लेकिन हनुमा विहारी जगह ले गए। आखिर हनुमा विहारी को जगह देने के पीछे टीम मैनेजमेंट की एक अलग सोच थी और उसी कारण से रोहित पर हनुमा को तरजीह दी गई।

IND VS WI- इस वजह से टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट में नहीं दी प्लेइंग इलेवन में जगह 3

दरअसल हनुमा विहारी को भारतीय टीम में मौका मिले ज्यादा समय नहीं हुआ है और इस टेस्ट मैच से पहले तक हनुमा विहारी ने 4 मैच खेले जिसमें उन्होंने अपने आपको बतौर बल्लेबाज और उपयोगी स्पिन गेंदबाज के रूप में साबित किया है। और टीम मैनेजमेंट ने कुछ समय पहले साफ किया था कि जिस खिलाड़ी को टीम में जगह दी जाएगी उसे अपने आपको साबित करने का पूरा मौका दिया जाएगा।

हनुमा विहारी बल्लेबाजी के साथ ही गेंदबाजी में भी दे सकते हैं उपयोगी योगदान

हनुमा विहारी को पिछले ही साल इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू का मौका मिला जहां उन्होंने अपने पहले मैच में ना केवल अर्धशतक जड़ा बल्कि इसके बाद अपनी स्पिन गेंदबाजी से 3 विकेट भी हासिल किए। यानि साफ है कि हनुमा विहारी कामचलाऊ गेंदबाजी से स्पिन का विकल्प देते हैं।

Trying to get a bounce from the pitch: Vihari

तो वहीं अब तक रोहित शर्मा को टेस्ट क्रिकेट में काफी मौके दिए जा चुके हैं जो टीम इंडिया के लिए 27 टेस्ट मैच खेल चुके हैं लेकिन वो वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं जैसी उनसे उम्मीद की जा रही थी। और इसके अलावा वो अपनी गेंदबाजी से भी कुछ खास करने का दम नहीं रखते हैं।

उपकप्तान रहाणे ने भी बतायी थी रोहित शर्मा को ना लेने की वजह

हनुमा विहारी को पहले टेस्ट मैच में टीम में शामिल करने के पीछे की वजह को टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी इस टेस्ट के पहले दिन के खेल के खत्म होने के बाद बतायी और कहा कि

IND VS WI- इस वजह से टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को पहले टेस्ट में नहीं दी प्लेइंग इलेवन में जगह 4

“टीम मैनेजमेंट को लगा कि जडेजा इस विकेट पर बेहतर विकल्प होंगे और हमें एक छठे बल्लेबाज की भी जरूरत थी जो गेंदबाजी भी करता हो। विहारी इस ट्रेक पर गेंदबाजी कर सकते हैं। तो यही बातें कप्तान और कोच के बीच हुई। ये बहुत मुश्किल होता है जब अश्विन और रोहित जैसे खिलाड़ी को बाहर बिठाना पड़े लेकिन ये सबकुछ टीम के लिए ही होता है।”

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।