rohit sharma india vs australia

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्तानी में भारत ने आखिरी के दो मुकाबले जीतते हुए टी20 सीरीज में कब्जा कर लिया। हालांकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने पहली बार अपने घर में सीरीज जीता है। इस जीत के बावजूद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ज्यादा खुश नहीं हुए और उसकी वजह उन्होंने खुद बताई है।

जीत के बावजूद खुश न हुए कप्तान

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 मैचों की टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में हार के बाद टीम इंडिया ने बाकी के दो मुकाबलों में शानदार वापसी करते हुए जीत हासिल करने में सफल रही।

रविवार को खेले गए आखिरी मुकाबले में मेहमान टीम को 6 विकेट से जीत दर्ज करने के बावजूद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ज्यादा खुश नहीं दिखे। उन्होंने अपनी नाराजगी जताते हुए डेथ ओवर्स गेंदबाजों पर बात की और टी20 क्रिकेट में गलती की गुंजाइश पर भी बयान दिया, जिसके बारे में यहां जानेंगे।

टी20 क्रिकेट में गलती की गुंजाइश

Rohit Sharma
Rohit Sharma

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी और निर्णायक मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 187 रनों का लक्ष्य रखा था, इस दौरान ओपनिंग बल्लेबाज कैमरन ग्रीन 52(21) और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज टिम डेविड54(27) ने अर्धशतकीय पारी खेली।

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने आखिरी ओवर में जीत दर्ज करने में कामयाब रही। इस जीत में विराट कोहली 63(48), सूर्यकुमार यादव 69(36) और हार्दिक पांड्या 25(16) का अहम योगदान रहा।

यह पहली बार ऐसा हुआ कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत पहली बार अपने घर में सीरीज जीतने में कामयाब हो पायी। इस जीत के बाद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा-

“कभी कभी आप गलती भी करते हैं लेकिन टी20 क्रिकेट में ऐसा होता है क्योंकि गलती की गुंजाइश काफी कम होती है।  कई बार आप बहुत कुछ करने में गलती करते हैं। यह टी20 क्रिकेट है और इसमें गलती की गुंजाइश बहुत कम होती है। मुझे लगा कि हमने मौके का फायदा उठाया। कभी-कभी ऐसा नहीं होता लेकिन यह एक सीख है जिसे हम अपनाएंगे।”

डेथ ओवरों में गेंदबाजी पर दिया बयान

केवल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही नहीं बल्कि पिछले कई समय से ही टीम इंडिया डेथ ओवर्स में जूंजती हुई दिख रही है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम का यही हाल रहा। डेथ ओवर्स में गेंदबाजों की जमकर धुनाई हुई। ऐसे में ये समस्या टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए एक बड़ी चिंता का विषय है। इस समस्या पर बातचीत करते हुए रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा-

“कई विभागों में सुधार की गुंजाइश है विशेषकर डेथ ओवरों की गेंदबाजी में। बहुत सारे विभाग हैं (जिनमें सुधार की गुंजाइश है), खासकर हमारी डेथ ओवरों की गेंदबाजी। वे दोनों (हर्षल और बुमराह) काफी समय बाद खेल रहे हैं। उनके (आस्ट्रेलिया के) मध्य और निचले क्रम को गेंदबाजी करना काफी मुश्किल है। इस पर ध्यान नहीं देना चाहते। वे ब्रेक के बाद आ रहे हैं और उन्हें लय में आने में समय लगेगा।”

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया से टी20 सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया का सामना अपने ही घर में साउथ अफ्रीका से होने वाला है जो कि 28 सितंबर को शुरू होगा। दोनों टीमों के बीच 3 मैचों की टी20 और उतने ही मैचों की वनडे सीरीज खेला जाने वाला है।