रोहित शर्मा शतक पत्रकार संबोधित प्रेस कांफ्रेंस

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात 

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात

भारतीय टीम की फिलहाल कप्तानी कर रहे रोहित शर्मा ने कप्तान बनने के बाद असाधारण प्रदर्शन किया है. वह दूसरे टी20 मुकाबले में जिस तरह से खेल रहे थे, देख कर ऐसा लग रह था कि रोहित शर्मा को रोकना मुश्किल है, इस मैच में उनकी सोच बिल्कुल अलग रही थी, ऐसा लग रहा था कि वह एक टारगेट को देख कर खेल रहे हैं. लेकिन ये सब केवल कयास मात्र हैं, क्योंकि रोहित शर्मा ने खुद मैच के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए अपनी पारी और कप्तानी कब बारे में बताया.

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात 1

मैं तो केवल स्कोर बनाना चाहता था-

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात 2

रोहित शर्मा ने कहा , मैं तो केवल स्कोर बनाना चाहता था, मेरे दिमाग में कोई टार्गेट नहीं था, मैं ऐसा ही अपने पूरे खेल के दौरान करता हूँ. मैं केवल ज्यादा से ज्यादा स्कोर करना चाहता. मेरे दिमाग में कोई कीर्तिमान नहीं होता, मैं अपनी टीम को अच्छे स्कोर में देखना चाहता हूं.

रोहित ने कहा, कि “मेरे पास कोई खास शक्तियां नहीं हैं. मैं  केवल टाइमिंग पर काम करता हूँ. मुझे अपनी कमी और ताकत का अंदाजा है. ईद मैच में मैं फील्ड के हिसाब से खेल रहा था. जब 6 ओवर हो गये तब मैं ज्यादा से ज्यादा छक्के और चौके लगाने की सोच रहा था. मेरी ताकत है कि मैं मैदान के किसी भी कोने में शॉट खेल सकता हूं. यही मैंने इस मैच में किया.”

धर्मशाला के बाद कप्तानी में सवाल उठने लगे-

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात 3

रोहित ने कहा, कि यह बिल्कुल नहीं है कि हमारे ऊपर कोई दबाव नहीं था, जब हम धर्मशाला में मैच हारे थे, तब मेरे ऊपर कितना दबाव था कि कप्तानी का पहला ही मैच हार गया. हमारे ऊपर हमेशा दबाव होता है, चाहें जिस भी टीम के लिए खेले. क्योंकि हम अपने लिए नहीं खेलते बल्कि हम सवा सौ करोड़ देश वासियों के लिए खेलते हैं. हम उनके चेहरे पर मुस्कान के लिए खेलते हैं.

मुझे अगली बार कप्तानी कब मिलेगी पता नहीं-

सीरीज खत्म होते ही रोहित के अंदर दिखा कप्तानी छिनी जाने का डर, सीरीज जीतने के बाद कप्तानी को लेकर कही ये बड़ी बात 4

रोहित ने यह भी कहा, कि “मेरे लिए हर मैच महत्वपूर्ण है. क्योंकि मुझे कप्तानी मिली है, अब पता नहीं आगे कब कप्तानी मिले. इस लिए जब हम मुंबई में खेलेंगे वह मैच भी हमारे लिए महत्वपूर्ण होगा.”

Related posts

Leave a Reply