ऋषभ पंत

कोरोना वायरस के चलते सभी खिलाड़ियों की तरह टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा भी अपने घऱ पर कैद हैं. मगर रोहित लगातार सोशल मीडिया के जरिए फैंस के साथ जुड़े हुए हैं. हिटमैन क्वारेंटाइन दिनों में इंस्टाग्राम लाइव पर क्रिकेटर्स का इंटरव्यू कर रहे हैं. मंगलवार को रोहित ने सिक्सर किंग के साथ बातचीत की. इस दौरान उन्होंने युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत के बारे में बात की.

ऋषभ पंत पर लिखने से पहले सोचे

रोहित शर्मा

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा इन दिनों कोरोना वायरस के चलते घर पर ही हैं. इस दौरान हिटमैन ने मंगलवार को लाइव चैट में युवराज सिंह से बात की. इस दौरान रोहित ने ऋषभ पंत के बारे में बात करते हुए  मीडिया से नाराजगी जताई. रोहित ने कहा,

मैं ऋषभ पंत से ज्यादा बात करता हूं.  वह केवल 20-21 साल का है. वह इतना ज्यादा आंकलन के घरे में था कि परेशान हो गया.

मीडिया सोचता है कि लिखना उनका काम है, लेकिन उन्हें कुछ भी लिखने से पहले समझदार होना चाहिए और सोचना चाहिए, क्योंकि उनका कुछ भी लिखना काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

रोहित शर्मा ने फैंस को दी सलाह

टीम इंडिया के फैंस उन्हें जितना सपोर्ट करते हैं, उतना ही सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों को ट्रोल करते भी नजर आते हैं. किसी खिलाड़ी का प्रदर्शन एक-दो मैच में खराब देखकर उन्हें टीम से बाहर करने की बात करने लगते हैं. इसपर हिटमैन ने फैंस को सलाह देते हुए कहा,

आप लोग कहते हैं कि खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा उसे टीम से बाहर कर दो. लेकिन आप लोगों को ये भी समझना चाहिए कि जो विपक्षी टीम है वह भी जीतने की कोशिश कर रही है.

ये फैसला अधिकारी करेंगे, आप लोग क्रिकेट का लुफ्त उठाइए. हां, हम हारते हैं लेकिन आजकल हम जीतते ज्यादा हैं.

ऋषभ पंत होते हैं आलोचनाओं का शिकार

रोहित शर्मा

महेंद्र सिंह धोनी के उत्तराधिकारी माने जाने वाले विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत अक्सर सुर्खियों में छाए रहते हैं. असल में हर कोई पंत की तुलना धोनी से करता है. जो कि काफी गलत है. ऐसे में पत दबाव में आ जाते हैं. युवा होने के नाते पंत से गलतियां होती हैं जिसके चलते उन्हें सोशल मीडिया पर फैंस की ट्रोलिंग का शिकार होना पड़ता है.

इतना ही नहीं मीडिया भी पंत पर सवाल उठाती नजर आती है. ये कोई पहली बार नहीं है जब रोहित ने पंत का सपोर्ट किया है. बल्कि इससे पहले भी रोहित ने मीडिया को पंत से नजरें हटाने की सलाह दी थी.