5 खिलाड़ी, जिन्हें रोहित शर्मा के कप्तान बनते ही टीम इंडिया में मिल जाएगा मौका 1

भारत क्रिकेट टीम में सूर्य कुमार यादव जैसे कई ऐसे युवा क्रिकेटर हैं, जिनका बल्ला सिर्फ आईपीएल में ही चलते हुए देखा गया है. ऐसे खिलाड़ियों को भारतीय फैंस टीम इंडिया में भी देखना चाहते हैं, लेकिन अभी तक इन्हें वो जगह नहीं मिल पाई है. वो चाहे ईशान किशन हों, क्रुनाल पांड्या हों, राहुल चाहर हों या फिर जयंत यादव हों. लेकिन रोहित शर्मा की कप्तानी में इनकी एंट्री के कयास लगाए जा सकते हैं.

रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलने वाले ये पांच खिलाड़ी अभी भी टीम इंडिया से बाहर हैं. इनमें से एक-दो खिलाड़ी भारतीय टीम में डेब्यू तो कर चुके हैं, लेकिन अभी काफी वक्त से भारतीय खिलाड़ियों की लिस्ट से बाहर हैं. जबकि कुछ को अभी तक टीम में डेब्यू करने का भी मौका नहीं मिला है.

क्रुणाल पांड्या

krunal pandya

बात करते हैं कि, क्रुणाल पांड्या की जिनके भाई हार्दिक पांड्या हाल ही में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सीमित ओवरों की सीरीज के लिए पहुंचे थे. इस श्रृंखला में उनकी बल्लेबाजी की तारीफ चारो तरफ हो रही है लेकिन क्रुणाल पांड्या काफी लंबे वक्त से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं.

साल 2018 में ही हार्दिक के भाई क्रुणाल पांड्या ने विंडीज के खिलाफ अपना पहला टी-20 डेब्यू किया था. इस मैच में विरोधी टीम के खिलाफ गेंदबाजी करते हुए उन्होंने बैटिंग लाइन अप में जबरदस्त प्रदर्शन किया था.

साल 2017 में उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस की तरफ से डेब्यू किया था. जिसके कप्तान रोहित शर्मा हैं, और वो क्रुणाल पांड्या पर काफी भरोसा जताते हैं. ऐसे में यदि रोहित शर्मा टीम इंडिया के कप्तान बनते हैं, तो क्रुणाल की वापसी टीम में पक्की हो सकती है.

सूर्य कुमार यादव

surya kumar yadav

आईपीएल एक ऐसा प्लेटफॉर्म रहा है, जिसने खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का एक अच्छा मौका दिया है. इसके जरिए भारतीय टीम को भी कई सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी अब तक मिल चुके हैं. हालांकि सूर्य कुमार यादव जैसे खिलाड़ियों को अभी तक अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं दिया गया है.

साल 2012 में सूर्य कुमार यादव को पहली बार आईपीएल में मुंबई इंडियंस की टीम ने खरीदा था. लेकिन उन्हें खेलने का कुछ खास अवसर नहीं दिया गया. इसके बाद साल 2014 में उन्हें नीलामी में कोलकाता नाइट राइडर्स कीटीम ने खरीद लिया. इसके बाद साल 2015 में केकेआर की तरफ से मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेलते हुए सूर्यकुमार यादव ने 98 रन की जबरदस्त पारी खेली और टीम को जीत दिलाई.

सूर्य कुमार यादव के प्रदर्शन से प्रभावित होने के बाद एक बार फिर उन्हें साल 2018 में मुंबई इंडियंस की टीम ने खरीद लिया. 2019 में 16 मैच में खेलते हुए उन्होंने 32.61 के औसत से 424 रन बनाए. इसके साथ ही 2020 के आईपीएल सीजन में भी उनका अच्छा प्रदर्शन रहा है. ऐसे में रोहित शर्मा की कप्तानी में भी उन्हें टीम इंडिया का हिस्सा बनाया जा सकता है.

राहुल चाहर

rahul chahar

लेग स्पिनर गेंदबाज राहुल चाहर इंडियन प्रीमियर लीग में चर्चा बटोरने वाले खिलाड़ियों में से एक हैं. साल 2016 में राहुल ने प्रथम श्रेणी के क्रिकेट रणजी ट्रॉफी में राजस्थान टीम से डेब्यू करते हुए पहला मैच ओडिशा के खिलाफ खेला था. इसके अलावा वो कई घरेलू टूर्नामेंट का हिस्सा रह चुके हैं.

साल 2019 में राहुल चाहर की गेंदबाजी के कमाल को देखते हुए उन्हें अंतराष्ट्रीय टी 20 टीम में चुना गया था. इस दौरान उन्होंने अपना पहला टी-20 डेब्यू मुकाबला वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला था. इस मैच में राहुल चाहर ने 3 ओवर में बॉलिंग करते हुए 27 रन देकर 1 विकेट झटका था.

2017 में उन्हें पहली बार आईपीएल में राइजिंग पुणे की टीम ने 10 की बोली लगाकर खरीदा. 8 अप्रैल, 2017 में उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ पहला आईपीएल डेब्यू मैच खेला था.
इसके बाद साल 2018 में उन्हें मुंबई इंडियंस ने 1.9 करोड़ रूपये में अपनी टीम में शामिल कर लिया था. हालांकि उन्हें 2018 में खेलने का मौका ही नहीं दिया गया.

2019 में राहुल चाहर ने मुम्बई इंडियंस की तरफ से शानदार प्रदर्शन किया. 13 मैच खेलते हुए इस सीजन में उन्होंने 13 विकेट झटके थे. 6.55 इकोनॉमी के साथ वो तीसरे सर्वश्रेष्ठ खिलाडी बन गए थे. आईपीएल 2020 में भी उनका प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा. ऐसे में येकहना गलत नहीं होगा कि यदि रोहित शर्मा कप्तान बने तो उन्हों टीम इंडिया में खेलने का मौका मिल सकता है.

ईशान किशन

ishan kishan

रणजी ट्रॉफी से अपने करियर की शुरूआत करने वाले ईशान किशन अपनीव शानदार बल्लेबाजी के चलते लोगों के बीच मशहूर हैं. लेकिन टीम इंडिया की तरफ से अभी तक उन्हें डेब्यू करने का मौका नहीं मिला है. रणजी में सबसे ज्यादा 14 छक्के लगाने का भी रिकॉर्ड उन्हीं के नाम रहा है.

साल 2016 में हुए अंडर -19 विश्व कप में खेलते हुए उन्होंने लगातार 5 मैचों में नाबाद रहने की भी बड़ी उपलब्धि अपने की थी. साल 2016 में ही ईशान किशन आईपीएल में मुंबई इंडियंस की टीम के साथ जुड़े थे. तब से अब तक वो रोहित शर्मा की टीम में ही खेलते आ रहे हैं हालांकि टीम इंडिया में रोहित शर्मा की कप्तानी उन्हें डेब्यू करने का मौका दिला सकती है.

जयंत यादव

jayant yadav

आखिर में बात करते हैं जयंत यादव की. जिन्होंने साल 2014 में आईपीएल के जरिए अपने क्रिकेट करियर की शुरूआत की थी. पहली बार उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेलने का मौका मिला था. इससे पहले वो रणजी ट्राफी में हरियाणा की तरफ से भी आयोजित किए गए टूर्नामेंट का हिस्सा रहे चुके हैं. फिलहाल इस समय वो आईपीएल में रोहित शर्मा की कप्तानी  में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेल रहे हैं.

बाएं हाथ के ऑफ ब्रेक गेंदबाज और बांए हाथ के बल्लेबाज जयंत यादव टीम इंडिया में डेब्यू भी कर चुके हैं. साल 2016 में उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में डेब्यू करने का मौका मिला था. इसी टीम के खिलाफ खेलते हुए उन्होंने पहला विकेट भी चटकाया था. इसके साथ ही वनडे के लिए जयंत यादव को वीरेंदर सहवाग कैप मिली थी.

जयंत यादव एक शानदार गेंदबाज होने के साथ जबरदस्त बल्लेबाज भी हैं. जयंत ने पहले 3 टेस्ट मैचों में बल्लेबाजी करते हुए कुल 73 से भी ज्यादा की औसत से रन बनाए थे. इस दौरान उनके बल्ले से एक शतक और एक अर्धशतक निकला था.

जयंत यादव भारत के ऐसे पहले बल्लेबाज हैं जिसने 9 नंबर पर आकार शतक बनाया था. विराट कोहली के साथ खेलते हुए उन्होंने 8वें विकेट के लिए 241 रन की साझेदारी की थी. जो क्रिकेट के इतिहास की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है.

हालांकि काफी वक्त से वो टीम इंडिया से दूर हैं, और उन्हें टीम का हिस्सा नहीं बनाया गया है. लेकिन हिट मैन की कप्तानी में उन्हें ये मौका मिल सकता है. क्योंकि उनका प्रदर्शन अभी तक शानदार ही रहा है.