रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना 

रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना

रोहित शर्मा का कप्तानी रिकॉर्ड शानदार है. वह अबतक भारतीय टीम के लिए वनडे क्रिकेट में कुल 10 मैच में कप्तानी कर चुके हैं. जिसमे उन्होंने 8 मैचों में भारत को जीत दिलाई है. रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम ने कुल 19 टी-20 मैच खेले हैं. जिसमे से भारत ने 15 मैच जीते है और सिर्फ 4 मैच ही हारे है. रोहित शर्मा का भारत की वनडे क्रिकेट की कप्तानी में 80.00 का शानदार जीत प्रतिशत है. रोहित का भारत की टी-20 क्रिकेट की कप्तानी में 78.94 का शानदार जीत प्रतिशत है.

आईपीएल में भी रोहित की कप्तानी का रिकॉर्ड शानदार

रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना 1

बता दें, कि आईपीएल में रोहित शर्मा मुंबई इंडियंस के कप्तान है और उनकी कप्तानी में मुंबई इंडियंस की टीम कुल 4 बार आईपीएल का खिताब जीत पाई है. रोहित आईपीएल के सबसे सफलतम कप्तान है, उनसे ज्यादा आईपीएल के ख़िताब किसी भी कप्तान ने अपनी टीम को नहीं जीताए हैं.

रोहित की कप्तानी एमएसडी से काफी मिलती-जुलती

रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना 2

सुरेश रैना ने अपने एक बयान में रोहित शर्मा की कप्तानी के बारे में बात करते हुए कहा, “रोहित की कप्तानी एमएसडी से काफी मिलती-जुलती है, जिस तरह से वह चीजों को शांत तरीके से करते हैं और जिस तरह से वह लोगों को प्रेरित करते हैं. वह बिंदास हैं.

वह जानते हैं कि जब भी वह बल्लेबाजी करने जाते हैं तो रन बनाते हैं, इसलिए इस तरह का आत्मविश्वास एक खिलाड़ी में है. फिर बाकी खिलाड़ी भी उससे प्रेरित होते हैं और यही मुझे रोहित के बारे में पसंद है.”

पुणे के खिलाफ फाइनल में की थी बेहद शानदार कप्तानी

रोहित शर्मा की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी से काफी मिलती-जुलती : सुरेश रैना 3

सुरेश रैना ने आगे अपने बयान में कहा, “मैंने आईपीएल में पुणे के खिलाफ हुए फाइनल में देखा था, रोहित ने मुंबई के कप्तान के रूप में कुछ 2-3 शानदार फैसले लिए थे. उन्होंने जिस तरह से सूखे विकेटों पर ओवरों के बीच बदलाव किए, जिस तरह से उन्होंने पुणे पर दबाव बनाया. यह सब देख कर लगता है कि, वह इन सभी फैसलों को खुद ले रहे हैं.

हां, बाहर से भी कुछ सलाह जरूर आ रही होगी, लेकिन उस समय रोहित को पता होता है कि, उन्हें कब क्या करना है? कोई आश्चर्य नहीं कि, उन्होंने कप्तान के रूप में आईपीएल की इतनी ट्रॉफी जीती हैं.”

Related posts