विराट कोहली की टीम का साथी सट्टेबाजी-मैच फिक्सिंग में अरेस्‍ट, बंगलौर पुलिस ने

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विराट कोहली की टीम का साथी सट्टेबाजी-मैच फिक्सिंग में अरेस्‍ट, बंगलौर पुलिस ने हिरासत में लिया 

विराट कोहली की टीम का साथी सट्टेबाजी-मैच फिक्सिंग में अरेस्‍ट, बंगलौर पुलिस ने हिरासत में लिया

वैसे तो क्रिकेट को जेंटलमैन गेम के नाम से जाना जाता है, इसमें भी ,मैच फिक्सिंग एक काला धब्बा है. एक खिलाडी को फिक्सिंग का प्रस्‍ताव देने के मामले में बेंगलुरु पुलिस ने एक सेलेब्रिटी ड्रमर को गिरफ्तार किया है. ड्रमर ने 2019 में कर्नाटक प्रीमियर लीग में एक खिलाड़ी को गैरकानूनी तरीके प्रस्‍ताव दिया. वह फ्रेंचाइजी क्रिकेट के कई टूर्नामेंट से जुड़ा रहा है. इनमें आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर भी शामिल है यह आरोपी भी विराट कोहली की इस टीम से नाता रखता है.

बेल्‍लारी टस्‍कर्स के भावेश गुलेचा से खराब खेलने को कहा

विराट कोहली

आरोपी का नाम भावेश बाफना है और वह आईपीएल के दौरान आरसीबी की ओर से उसके मैचों में ड्रम बजाकर दर्शकों का मनोरंजन किया करता था. बाफना की गिरफ्तारी केपीएल टीम बेलगावी पैंथर्स के मालिक असफाक अली थारा के सीसीबी पुलिस द्वारा पड़ताल के बाद हुई.

अधिकारियों ने थारा को अगस्त में केपीएल सीजन के दौरान चल रहे एक अवैध सट्टेबाजी रैकेट में शामिल होने का दोषी पाया. हालांकि, पुलिस को अभी तक दिल्ली के एक सट्टेबाज की पहचान नहीं है, जिसे सनम के रूप में पहचाना जाता है.

पुलिस ने बताया कि बाफना इस लीग में बीजापुर बुल्‍स के साथ ड्रमर के रूप में काम करता था. उसने बेल्‍लारी टस्‍कर्स टीम के एक गेंदबाज को खराब खेलने लिए लालच दिया था, लेकिन गेंदबाज ने इससे इनकार कर दिया.

बाफना व संयम के खिलाफ 26 साल के तेज गेंदबाज भावेश गुलेचा की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया. शिकायत में कहा गया कि बाफना ने डील करने पर दो लाख कैश और आईपीएल कॉन्‍ट्रैक्‍ट दिलाने का वादा किया था.

विराट कोहली की टीम के साथी ने गेंदबाज को दिया लालच

विराट कोहली की टीम का साथी सट्टेबाजी-मैच फिक्सिंग में अरेस्‍ट, बंगलौर पुलिस ने हिरासत में लिया 1

पुलिस ने बताया कि आरोपी ने कर्नाटक प्रीमियर लीग में खेल रहे एक खिलाड़ी को सट्टेबाजों के कहने पर एक ओवर में 10 रन देने को कहा था. पुलिस ने बताया कि मामले में दिल्‍ली के सट्टेबाज संयम की तलाश है. उसी के कहने पर बाफना ने खिलाड़ी को प्रस्‍ताव दिया था.

संयुक्त पुलिस आयुक्त संदीप पाटिल ने कहा कि

“केपीएल मैच फिक्सिंग घोटाले में चल रही जांच में एक बड़ी सफलता में, दो सट्टेबाजों भावेश बाफना और सनम के खिलाफ मैच फिक्स करने की कोशिश के लिए एफआईआर दर्ज की गई है. उन्होंने प्रति घंटा 10 से अधिक रन देने के लिए बेल्लारी टस्कर्स के गेंदबाज से संपर्क किया.”

Related posts