व्यंग्य रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर क्यों नहीं खेलना चाहती आईपीएल

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

व्यंग्य : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर नहीं खेलना चाहती आईपीएल 2020 का नॉकआउट मैच 

व्यंग्य : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर नहीं खेलना चाहती आईपीएल 2020 का नॉकआउट मैच

आईपीएल में यदि मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स की टीम का जिक्र होता है तो उसके बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का नाम भी आता है. अभी तक विराट कोहली के कप्तानी वाली इस टीम ने एक बार भी आईपीएल का खिताब अपने नाम नहीं किया है. फ़िलहाल हालात देखकर कहा जा सकता है की कोहली आईपीएल 2020 में भी नॉकआउट तक नहीं जाना चाहेंगे.

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर इसलिए नहीं खेलेगी नॉकआउट मैच

व्यंग्य : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर नहीं खेलना चाहती आईपीएल 2020 का नॉकआउट मैच 1

अब टीम के कप्तान विराट कोहली का पूरा ध्यान ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप पर लगा हुआ है. जिसके कारण ही उन्होंने हाल में ही यहाँ तक कह दिया की इस साल एकदिवसीय फ़ॉर्मेट का ही बहुत ज्यादा महत्व नहीं है. सूत्रों की माने तो वो आईपीएल से पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज नहीं खेलेंगे. जिससे वो अपना वर्कलोड मैनेज कर सके.

जिसके बाद जब वो आईपीएल के 14 मैच खेल लेंगे. उसके बाद उन्हें फिर वर्कलोड मैनेज करने की जरुरत पड़ेगी. जिसके कारण खुद कप्तान विराट कोहली नहीं चाहेंगे की उनकी टीम आईपीएल के नॉकआउट मैच खेले. जिससे उन्हें अपने वर्कलोड मैनेज करने का पूरा समय मिल जाए और उसके बाद वो एशिया कप 2020 में बिलकुल तरोताजा होकर खेल सके. उसके बाद उन्हें टी20 विश्व कप भी खेलना है.

आईपीएल में चोकर्स का ठप्पा लगा है बैंगलोर पर

व्यंग्य : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर नहीं खेलना चाहती आईपीएल 2020 का नॉकआउट मैच 2

ऐसा नहीं रहा है की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम कभी जीतना ही नहीं चाहती थी. इस टीम ने दो बार जीतने का पूरा प्रयास भी किया था. लेकिन अंत समय में उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा. 2009 और 2016 के आईपीएल में उनकी टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था.

लेकिन उसके बाद फाइनल मैच में वो कुछ गलती कर हार गये. आईपीएल के हर सीजन में बैंगलोर की टीम 3 से 4 मैच अंत के ओवरों में जाकर हार जाती है. विश्व क्रिकेट में जो दर्जा दक्षिण अफ्रीका की टीम को हासिल हैं. वहीँ दर्जा आईपीएल में विराट कोहली के कप्तानी वाली रॉयल चैलेजर्स बैंगलोर की टीम को हासिल हो गया है.

टीम में मौजूद हैं मैच खत्म करने वाले गेंदबाज

IPL-12: Bangalore sticks to victory

हर बड़ी टीम को जरुरत होती है की उनके पास मैच को खत्म करने वाले गेंदबाज मौजूद हो. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम के पास भी वो गेंदबाज हैं. जिसमें शिवम दूबे, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव और नवदीप सैनी मौजूद हैं. अब तो ऑस्ट्रेलिया के केन रिचर्डसन भी टीम का हिस्सा बन गये हैं. जो मैच को खत्म करने की कला जानते हैं. हालाँकि वो मैच को जब खत्म करते हैं तो विपक्षी टीम ही विजेता बन जाती है. उनकी जीत का श्रेय इन्ही गेंदबाजो को ही दिया जाता है.

Related posts